उत्तर प्रदेशदेशराजनीतिलोकसभा 2019 चुनाव

भाजपा के इस पूर्व सांसद और पूर्व कैबिनेट मंत्री ने थामा कांग्रेस का ‘ हाथ ‘

लोकसभा चुनाव शुरू हो गए है और ऐसे में भाजपा को करारा झटका लगा है । आजमगढ़ से भाजपा के पूर्व सांसद रमाकांत यादव और सपा सरकार में मंत्री रहे राजकिशोर सिंह कांग्रेस में शामिल हो गए। उन्हें कांग्रेस विधायक आराधना मिश्रा और राष्ट्रीय सचिव जुबेर खान ने कांग्रेस की सदस्यता दिलाई।

दोनों नेताओं को कांग्रेस लोकसभा चुनाव लड़ाएगी। वहीं राजकिशोर खुद लड़ने के बजाय अपने भाई बृजकिशोर सिंह डिंपल को बस्ती से मैदान में उतारना चाहते हैं। सूत्रों के मुताबिक, रमाकांत गाजीपुर से चुनाव लड़ना चाहते हैं, जबकि पार्टी उन्हें भदोही से चुनाव लड़ाना चाहती है।

रमाकांत ने 2014 का चुनाव भाजपा के टिकट पर आजमगढ़ से लड़ा था। लेकिन सपा प्रत्याशी मुलायम सिंह यादव से वे करीब 30 हजार मतों से हार गए थे। इस बार रमाकांत के स्थान पर भाजपा ने भोजपुरी फिल्म अभिनेता दिनेश लाल यादव निरहुआ को टिकट दिया है। इससे नाराज रमाकांत ने कांग्रेस का साथ पकड़ा है।

बस्ती लोकसभा क्षेत्र बसपा के खाते में चले जाने के बाद राजकिशोर कांग्रेस के संपर्क में आ गए थे। पहली बार वे 2002 के विधानसभा चुनाव में हरैया (बस्ती) से बसपा के टिकट से चुनाव जीते थे। बसपा सरकार में वे कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं।

2007 और 2012 में भी वे हरैया से विधानसभा चुनाव जीत चुके हैं। 2012 का चुनाव वे सपा के टिकट पर जीते थे। अखिलेश सरकार में तीसरी बार कैबिनेट मंत्री बनने का मौका मिला।

 

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close