उत्तर प्रदेश

अनुसूचित जाति की सरकारी दुकानों का भू-माफियाओं ने किया बैनामा

बाराबंकी की नगर पंचायत सुबेहा में उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम लिमिटेड द्वारा बनाई गई दुकानों को भू-माफिया बेच रहे हैं। हरिजन समाज कल्याण निगम लिमिटेड के द्वारा दुकाने लगभग 30 वर्ष पहले बनाई गई थी जिसे अनुसूचित जाति के लोगों को सभी दुकाने हरिजन समाज कल्याण विभाग द्वारा आवंटित कर दी गई थी वहीं सभी आवंटी अपनी-अपनी दुकानों पर आज भी काबिज हैं।

पूरा मामला बाराबंकी की नगर पंचायत सुबेहा के मोहल्ला गढ़ी वार्ड का है जहाँ पर सुबेहा चकोरा मार्ग पर लगभग 30 वर्ष पहले उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति वित्त निर्माण निगम लिमिटेड के द्वारा 10 दुकानें बनाकर अनुसूचित जाति के लोगों को आवंटित कर दी गई थी जिसके बाद नगर पंचायत का दर्जा मिलने के बाद पुनः फिर उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम लिमिटेड के द्वारा 2008 में अनुसूचित जाति के लोगों को आवंटित की गई हैं जिसमें से कई वर्ष पूर्व इसमें से दो दुकाने बेच दी गई थी जिस पर भू माफियाओं के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत है बची दुकानों पर आज भी अनुसूचित जाति के आवंटी मौके पर मौजूद हैं।

Show More

Related Articles

Close
Close