उत्तर प्रदेशदेशधर्म अध्यात्मप्रयागराज - अयोध्या

अयोध्या मामले पर आज सुनवाई करेगा सर्वोच्च न्यायालय

भाजपा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने सोमवार को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष कहा कि अयोध्या में विवादित स्थल पर पूजा करना लोगों का मूल अधिकार है और उन्होंने याचिका दायर कर विवादित स्थल पर पूजा करने की इजाजत मांगी थी

सुप्रीम कोर्ट आज मंगलवार को अयोध्या मामले पर सुनवाई करेगी। पांच सदस्यीय नई संविधान पीठ पहली बार इस मुद्दे की सुनवाई करेगी। पीठ में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एस अब्दुल नजीर शामिल हैं. वर्ष 2010 से लंबित इस मामले में जस्टिस यूयू ललित के 10 जनवरी को सुनवाई से अलग होने के बाद नई पीठ का गठन किया गया है.

भाजपा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने सोमवार को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष कहा कि अयोध्या में विवादित स्थल पर पूजा करना लोगों का मूल अधिकार है और उन्होंने याचिका दायर कर विवादित स्थल पर पूजा करने की इजाजत मांगी थी.  इस पर पीठ ने उनसे मंगलवार को होनी वाली सुनवाई के दौरान मौजूद रहने को कहा है.

चीफ जस्टिस ने 10 जनवरी को रजिस्ट्री को 15 बक्सों में रखे दस्तावेज को निरीक्षण कर व्यवस्थित करने के लिए कहा था ताकि सुनवाई शुरू हो सके.  चीफ जस्टिस ने पाया था कि इस मामले में चार सूट में 122 मसले हैं, 88 गवाहों का परीक्षण किया गया और उनकी गवाही 13886 पेज में है. 275 दस्तावेज अब तक पेश किए गए हैं साथ ही इलाहाबाद हाईकोर्ट का फैसला भी 8533 पेज का है.

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close