उत्तर प्रदेशबड़ी खबर

15 मार्च से पुलिसकर्मियों को नहीं मिलेगा अवकाश – डीजीपी

लोकसभा चुनाव और होली के त्यौहार को देखते हुए पुलिस विभाग में अवकाश पर रोक लगा दी गई है। इसके लिए डीजीपी ओपी सिंह ने आदेश जारी करते हुए कहा कि होली और लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सभी पुलिसकर्मियों को 15 मार्च से अवकाश नहीं दिए जाएंगे। डीजीपी ने अफसरों से कहा है कि विशेष व अपरिहार्य परिस्थितियों में ही अफसर संबंधित कर्मी की जरूरत को देखते हुए ही अवकाश स्वीकृत कर सकेंगे। वहीं डीजीपी ने मातहत अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए हैं। इसमें अफसरों से निर्देशों पर प्रभावी अमल करने को कहा गया है। डीजीपी मुख्यालय के अधिकारियों का कहना है कि संबंधित अफसर अपरिहार्य परिस्थितियों में स्वीकृत किए जाने वाले अवकाश को लेकर अपने वरिष्ठ अफसरों की जानकारी में लाएंगे।

बता दें कि डीजीपी मुख्यालय में बनाए गए चुनाव प्रकोष्ठ से लोकसभा चुनाव की तैयारियों पर सीधी नजर रखी जाएगी। प्रकोष्ठ कंट्रोल रूम से लेकर जिलों में तैनात पुलिस अफसरों से संपर्क रखने और दिशा-निर्देश देने के साथ ही रिपोर्ट हासिल करने का काम करेगा। जिलों से आने वाली इस प्रोग्रेस रिपोर्ट को डीजीपी व एडीजी कानून-व्यवस्था के समक्ष रखा जाएगा। चुनाव प्रकोष्ठ जिलों को आवंटित होने वाले सुरक्षा बलों को लेकर की जानी वाली जरूरी तैयारियों की भी जिम्मेदारी संभालेगा। निलंबित और लंबी छुट्टी पर चल रहे आईएएस अफसरों के स्थान पर बतौर प्रेक्षक दूसरे अधिकारियों को नामित कर दिया है। इसकी सूचना चुनाव आयोग को भेजकर अनुमोदन का अनुरोध किया गया है।
भर्ती में आरक्षण की गणना में गड़बड़ी के आरोप में निलंबित किए गए आईएएस शारदा सिंह के स्थान पर अयोध्या विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष ओमप्रकाश राय को प्रेक्षक नामित किया गया है। इसी तरह श्रुति के स्थान पर आईएएस अमित सिंह बंसल, नेहा प्रकाश के स्थान पर राकेश कुमार मिश्रा द्वितीय, नीना शर्मा के स्थान पर सुशील कुमार पटेल, अनुराग यादव के स्थान पर रवि शंकर गुप्ता, संदीप कौर के स्थान पर राजेश कुमार राय, चंद्र विजय सिंह के स्थान पर उमेश प्रताप सिंह और डॉ. विभा चहल के स्थान पर राजाराम को प्रेक्षक नामित किया गया है।
Tags
Show More

Related Articles

Close
Close