उत्तर प्रदेशदेशबड़ी खबरब्रेकिंगलखनऊ

PF घोटाला केस : पूर्व एमडी एपी मिश्रा हुए गिरफ्तार

यूपी पॉवर कारपोरेशन [ UPPCL ] के पीएफ घोटाले में इकनोमिक ओफ्फेंसेस विंग [ EOW ] ने एक बड़ी कार्यवाही की है। यूपी पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा [ EOW ] ने पूर्व एमडी एपी मिश्रा को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया है।

यूपी पॉवर कारपोरेशन [ UPPCL ] के पीएफ घोटाले में इकनोमिक ओफ्फेंसेस विंग [ EOW ] ने एक बड़ी कार्यवाही की है। यूपी पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा [ EOW ] ने पूर्व एमडी एपी मिश्रा को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया है।

सोमवार देर रात से ही एपी मिश्रा के गोमतीनगर व अलीगंज के आवास और दफ्तर पर यूपी पुलिस की विशेष टीम की कड़ी निगरानी थी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एपी मिश्रा को सोमवार देर रात उनके अलीगंज स्तिथ आवास से गिरफ्तार कर लिया गया था,और फिर उन्हें हजरतगंज थाने में लेजाकर पूछताछ की। गिरफ्तार हुए एपी मिश्रा को आज किसी भी वक्त कोर्ट में पेश किया जा सकता है।

सरकार ने इस घोटाले की जांच सीबीआई के हाथ में सौपने की सिफारिश की है, क्योंकि इस घोटाले में अब तक यह तीसरी गिरफ्तारी है। आप को बता दें कि [ EOW ] 2268 करोड़ के पीएफ घोटाले की जांच में जुटी तभी सरकार ने इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की है।

इस घोटाले की ख़बर सामने आने के बाद ही सरकार ने अपर्णा यू को उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन के प्रबंध निदेशक और ऊर्जा सचिव के पद से हटा दिया है।केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटे एम देवराज को अब सचिव ऊर्जा और प्रबंध निदेशक का दायित्व सौंपा गया है।

बताया जा रहा है कि डीएचएफएल में निवेश को मंजूरी देने में जो भी जिम्मेदार हैं उन पर शिकंजा कसने की तैयारी कर ली है। अब एपी मिश्रा की गिरफ्तारी के बाद कई अन्य अधिकारियों पर भी जांच की आंच पहुंच सकती है.
उधर उत्तर प्रदेश के बिजली कर्मचारियों ने भविष्य निधि घोटाले के विरोध में मंगलवार को विरोध प्रदर्शन और 18 नवंबर से दो दिवसीय कार्य बहिष्कार करने का फैसला किया है।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close