उत्तर प्रदेशदेशबड़ी खबर

अब अमेठी में बनेंगी AK-47

भारत सरकार ने 7 लाख 50 हजार एसॉल्ट राइफल को कोरवा की ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में रूस के साथ मिलकर संयुक्त उपक्रम परियोजना को मंजूरी दी है।

भारत और रूस के बीच एक रक्षा सौदा हुआ है | भारत सरकार ने 7 लाख 50 हजार एसॉल्ट राइफल को कोरवा की ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में रूस के साथ मिलकर संयुक्त उपक्रम परियोजना को मंजूरी दी है। कोरवा फैक्ट्री अमेठी लोकसभा के अंतर्गत आती है जहां से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सांसद हैं।

सूत्रों के अनुसार 7.62×39 एमएम के कैलिबर वाली एके-103 बंदूकों के लिए अंतर सरकारी सौदे पर 15 फरवरी को हस्ताक्षर हो सकते हैं। आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 28 फरवरी को इस योजना का उद्घाटन कर सकते हैं।

खबरों के अनुसार, ‘यह फैसला इसलिए लिया गया है कि सेना के सेवारत मेजर जनरल कोरवा फैक्ट्री का प्रतिनिधित्व करेंगे जोकि एके-103 राइफल परियोजना को लागू करेगी। इन राइफलों को मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत पूरी तरह भारत में ही बनाया जाएगा। इस सौदे में भारत सरकार की नीति के तहत ऑर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड के पास अधिकतम 50.5 शेयर होगा जबकि रूस के पास 49.5 शेयर रहेगा।

आपको बता दें कि राहुल के संसदीय क्षेत्र में राइफल परियोजना को बनाने की मंजूरी देकर सरकार कांग्रेस के खुदपर लगाए हुए घोर पूंजीवाद के आरोप को खत्म करना चाहती है। कांग्रेस लगातार राफेल सौदे के लिए अनिल अंबानी की कंपनी को चुनने की वजह से केंद्र सरकार पर हमले कर रही है।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close