Alive24News.com

Uttar Pradesh Lucknow's Latest News in Hindi (हिंदी)

मध्य प्रदेश में होने वाले उपचुनाव को लेकर मायावती ने लिया बड़ा फैसला


भोपाल। मध्य प्रदेश में उपचुनाव को लेकर सियासी उठापटक जारी है। यहां 24 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं। वहीं बहुजन समाज पार्टी मध्य प्रदेश में किसी भी दल के साथ गठबंधन करने को तैयार नहीं हैं। वह अकेले अपने उम्मीदवार उतारेगी। बसपा के एमपी में अभी 2 विधायक हैं। एमपी में बसपा अध्यक्ष रमाकांत पिप्पल ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि बसपा सुप्रीमो मायावती के आदेशानुसार एमपी में होने वाले आगामी विधानसभा उपचुनाव में बीएसपी सभी 24 सीटों पर अकेले अपने बलबूते पर चुनाव लड़ेगी और किसी भी पार्टी से गठबंधन नहीं करेगी।

अध्यक्ष ने बताय, उपचुनाव के लिए हमारी तैयारी जमीनी स्तर पर चल रही है। हालांकि, कोरोना वायरस की महामारी को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के चलते हमारी तैयारी थोड़ी धीमी हुई है। पिप्पल ने कहा कि किसानों की कर्जमाफी एवं बेरोजगारी हमारे प्रमुख मुद्दे होंगे। इसके अलावा, हम अनूसूचित जाति एवं अनुसूचित जाति के मुद्दों भी उठाएंगे। उन्होंने कहा कि अगले सप्ताह में दावेदारी आवेदन फॉर्म लिए जाएंगे। उसके बाद पैनल सूची मायावती को भेजी जाएगी। पिप्पल ने बताया कि बसपा के सभी कार्यकर्ता दिन-रात संगठन को मजबूत करने में लगे हुए हैं और पूरी तैयारी से चुनावी मैदान में उतरेगी।

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश विधानसभा की कुल 230 सीटों में भाजपा के 107 विधायक हैं, जबकि कांग्रेस के 22 विधायकों के त्यागपत्र देने के बाद उसकी संख्या घटकर 92 पर आ गई है। इनके अलावा 4 निर्दलीय हैं, जबकि 2 बसपा एवं 1 सपा के पास है। वर्तमान में विधानसभा की 24 सीटें रिक्त हैं, जिनमें से 22 कांग्रेस विधायकों के इस्तीफे से खाली हुए हैं, जबकि 2 सीटें भाजपा एवं कांग्रेस विधायक के निधन के बाद खाली हुई हैं।