उत्तर प्रदेशदेशराजनीति

लोकसभा चुनाव 2019 : मायावती नगीना सीट से नहीं लड़ेंगी चुनाव

लोकसभा चुनाव के लिए सपा-बसपा गठबंधन में बसपा की सीटों के लिए प्रभारियों के नाम फाइनल हो गए हैं। वहीं अटकलें थीं कि बसपा अध्यक्ष मायावती नगीना सुरक्षित सीट से चुनाव लड़ सकती हैं। मगर अब नगीना से गिरीश चंद्र जाटव को चुनाव की तैयारी के लिए कह दिया गया है। इससे अटकलें लगाई जा रही हैं कि मायावती अंबेडकरनगर या बिजनौर में से किसी सीट पर चुनाव लड़ सकती हैं। इसी तरह पूर्व ऊर्जा मंत्री रामवीर उपाध्याय की पत्नी व पूर्व सांसद सीमा उपाध्याय ने फतेहपुर सीकरी से चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया है। लेकिन वह अलीगढ़ से टिकट मांग रही थीं।

बता दें कि पिछले दिनों बसपा ने अलीगढ़ से अजीत बालियान को प्रभारी बनाने का एलान कर दिया था। इसके बाद सीमा ने फतेहपुर सीकरी से चुनाव लड़ने से मना कर दिया। अब बसपा वहां नए प्रभारी का एलान करने जा रही है। बसपा प्रभारियों को ही प्रत्याशी घोषित करती आई है, लेकिन आधिकारिक रूप से प्रत्याशी घोषित होने तक उनके बदलने का विकल्प खुला रहता है।

बसपा ने गठबंधन में मिलीं 38 सीटों में से ज्यादातर सीटों पर प्रभारियों का एलान कर चुनाव की तैयारियों में जुटने का निर्देश दे दिया है। सूत्रों ने बताया कि नगीना से गिरीश चंद्र जाटव, अलीगढ़ से अजीत बालियान, आगरा से मनोज सोनी, फर्रुखाबाद से मनोज अग्रवाल, हमीरपुर से संजय कुमार साहू, गौतमबुद्धनगर से सतबीर नागर, जालौन से अजय सिंह पंकज, शाहजहांपुर से अमर चंद्र जौहर, बुलंदशहर से योगेश वर्मा, मेरठ से हाजी याकूब कुरैशी, धौरहरा से अरशद इलियास सिद्दीकी, गाजीपुर से अफजाल अंसारी, मोहनलालगंज से सीएल वर्मा, मिश्रिख से डा. नीलू सत्यार्थी, बांसगांव से दूधराम, सलेमपुर से प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा, अकबरपुर से निशा सचान, फतेहपुर से सुखदेव प्रसाद वर्मा, बस्ती से राम प्रसाद चौधरी व श्रावस्ती चौधरी राम शिरोमणि, संतकबीरनगर से भीष्म शंकर उर्फ कुशल तिवारी को चुनाव की तैयारी का निर्देश दे दिया गया है। अन्य सीटों के प्रभारियों के नाम भी फाइनल हो गए हैं। उनका भी एलान जल्द ही करने की योजना है।
Tags
Show More

Related Articles

Close
Close