कैसे अपने ही थाने की हवालात में पहुंचा इंस्पेक्टर, जानिए स्टोरी


लखनऊ: नोएडा के सेक्टर 20 के थाना प्रभारी मनोज पंत को एसएसपी वैभव कृष्णा ने खुद रंगे हाथों आठ लाख रुपये की घूस लेते धर दबोजा। मनोज पंत ने लखनऊ से लेकर नोएडा तक पुलिस प्रशासन को शर्मसार करने में कोई कसर नही छोड़ी।

 

लखनऊ स्थित गोमती नगर थाने में एसओ रहते हुए सेक्स रैकेट में भी मनोज पंत का नाम जुड़ चुका है और और सेक्स रैकेट संचालिका ने खुद दर्ज कराया था मनोज पंत पर मुकदमा। अफसरों से नजदीकी सम्बंध के चलते मनोज पंत ने दर्ज कराएं मुकदमे को किया रफा-दफा । इस बार नोएडा में कर रहा था कॉल सेंटर से पत्रकारों की मिलीभगत से वसूली।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने सेक्टर 20 में इंस्पेक्टर मनोज पंत को उसी की हवालात में डाला ।मनोज पंत के साथ बड़े न्यूज़ चैनलों के तीन दलाल पत्रकार भी पकड़े गए और उनको जेल भेजे जाने की तैयारी और इसके साथ ही पत्रकार रमन ठाकुर, सुशील पंडित व एक अन्य पत्रकार भी गिरफ़्तार।

 

मुकदमा दर्ज कर इंस्पेक्टर और तीनों पत्रकारों को हवालात में बंद किया दिया गया है। नोएडा के पीपी … पुलिस.. प्रेस के मॉडल पर हो रहे भ्रष्टाचार पर एसएसपी ने करी बड़ी कार्यवाही। यूपी पुलिस की नई बीमारी का नोएडा से शुरू हुआ इलाज।दलाल पत्रकारों की मिलीभगत से वसूली का खेल का हुआ पर्दाफाश।