उत्तर प्रदेशक्राइमवाराणसी

वाराणसी के यूपी कॉलेज में छात्र पर अंधाधुंध फायरिंग कर उतारा मौत के घाट

यूपी कॉलेज के पीजी हॉस्टल के गेट के समीप रविवार की देर रात बीकॉम के 23 वर्षीय छात्र विवेक सिंह पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर हत्या कर दी गई

वाराणसी: यूपी कॉलेज के पीजी हॉस्टल के गेट के समीप रविवार की देर रात बीकॉम के 23 वर्षीय छात्र विवेक सिंह पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर हत्या कर दी गई. सूचना मिलते ही डीएम-एसएसपी सहित जिले के 13 थानों की फोर्स घटना स्थल पर पहुंची और जायजा लिया।

पुलिस के शहर भर में चेकिंग शुरू करने के बावजूद हत्यारोपियों का कोई सुराग नहीं लग पाया है. इस हत्याकांड की वजह छात्रसंघ चुनाव की रंजिश, छात्र गुटों के बीच वर्चस्व की लड़ाई और छात्रों के बीच की पुरानी रंजिश बताई।

आजमगढ़ जिले के तरवा थाना के जम्मूडीह गांव का मूल निवासी विवेक सिंह उदय प्रताप कालेज का बीकॉम द्वितीय वर्ष का छात्र था। विवेक सेकेंड हाउस हॉस्टल में रहता था. रविवार की रात 10:40 बजे के करीब विवेक कहीं बाहर से हॉस्टल परिसर में आया था. इसी दौरान उसके कुछ परिचितों ने उसे बुलाया और बातचीत के दौरान शुरू हुई कहासुनी के बाद उसकी कनपटी सहित शरीर के अन्य हिस्सों पर गोली मार दी.

ताबड़तोड़ फायरिंग की आवाज सुन कर जब तक विवेक के हॉस्टल के छात्र मौके पर आते तब तक बाइक सवार हत्यारे मौके से भाग निकले थे. आननफानन में साथी छात्र और पुलिस विवेक को दीनदयाल अस्पताल लेकर गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि विवेक की हत्या में यूपी कॉलेज के कुछ छात्रों का ही नाम सामने आ रहा है। तफ्तीश के लिए पुलिस की दो टीम गठित की गई है। वारदात का जल्द ही खुलासा कर आरोपियों को जेल भेज जाएगा।

रात 3 बजे विवेक सिंह के शव का पोस्टमार्टम कराया गया। इसके बाद सुबह साढ़े 7 बजे तक शव को परिजनों को सौंप दिया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में लिखा है कि शरीर में पांच गोलियां लगी थीं जिससे उसका मौत हो गई. विवेक सिंह की हत्या के बाद यूपी कॉलेज परिसर पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है.

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close