उत्तर प्रदेशदेशबड़ी खबरब्रेकिंग

PF घोटाले में ED ने शुरू की जांच

ED करेगा यूपी पावर कॉर्पोरेशन में हुए PF घोटाले की जांच। बता दें EOW यानी आर्थिक अनुसंधान से ED दिल्ली की टीम ने दस्तावेजों की मांग की है। हालांकि,EOW की ओर से दस्तावेज उपलब्ध भी करा दिए गए हैं। बता दें EOW में शुरुआती जांच में खातों में आए 65 करोड़ रुपए के ब्रोकरेज के बारे में जानकारी मिली थी।

UPPCL की पावर इंप्लाईज ट्रस्ट में जमा PF के पैसों का निवेश DHFL में कराने के लिए कुल 14 ब्रोकर फर्मो ने काम किया, जिसमें से 13 फर्मों ने हेराफेरी की थी। बता दें इन फर्मों से 14 अन्य फर्मों के खाते में पैसे भेजे गए, जिनका DHFL में निवेश से कोई संबंध नहीं था। साथ ही इन पैसों का इस्तेमाल कालेधन को सफेद करने के लिए किया गया।

कालाधन से सफ़ेद धन में बदलने के लिए दिल्ली के CA की भूमिका संदिग्ध पाई गई है। साथ ही चार्टेड अकाउंटेंट ललित गोयल से पूछताछ के दौरान दी गयी जानकारी को सत्यापित कराया जा रहा है। इस मामले में चार्टर्ड एकाउंट की गिरफ्तारी भी संभव है। साथ ही इस मामले में दिसंबर 2016 से लेकर नवंबर 2019 तक जो भी एमडी और प्रमुख सचिव उर्जा तैनात रहे हैं, उन सभी से पूछताछ की जाएगी।

Show More

Related Articles

Close
Close