Alive24News.com

Uttar Pradesh Lucknow's Latest News in Hindi (हिंदी)

बड़े पैमाने पर हो रही भारत नेपाल सीमा पर चाइनीज़ मटर की तस्करी


बहराइच : उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती जिला बहराइच के रुपईडीहा नेपाल बॉर्डर पर इन दिनों बड़े पैमाने पर ड्रैगन द्वारा निर्मित सुखी (हरी मटर) की तस्करी पुरजोर तरीके से की जा रही है। नेपाल तस्कर भारत नेपाल सीमा की खुली सीमा का लाभ उठा कर नेपाल के रास्ते चाइनीज़ मटर की खेप भारतीय इलाकों में भेज रहे हैं। चाइनीज़ मटर की तस्करी को लेकर सीमा पर तैनात सुरक्षा एजेंसियाँ काफी चोकन्नी हो गई हैं। ड्रैगन की जानलेवा मटर काफी हानिकारक है और जानकारों के मुताबिक चाइनीज़ मटर के छोले व बेशन का प्रयोग करने से लोग कैंसर जैसे घातक रोगों के शिकार भी हो सकते ही

ड्रैगन की यह एक सोची समझी साज़िस है जैसा जानकारों का कहना है।

आज रुपईडीहा थाना कोतवाली पर तैनात प्रभारी निरीक्षक मधुप नाथ मिश्र ने मुखबिर की सूचना पर नेपाल से ठेलियों पर लादकर सीमा पार लायी गयी 15 कुन्तल चाइनीज़ मटर की खेप के साथ रुपईडीहा टैक्सी स्टैण्ड के पास दो लोगों को हिरासत में ले लिया। चाइनीज़ मटर के साथ पकड़े गये पूरन पुत्र सुंदर निवासी रुपईडीहा तथा आसाराम पुत्र पल्टन निवासी जमुनहा गांव थाना रुपईडीहा ने पूछताछ के दौरान बताया कि यह सारा चाइनीज़ मटर नानपारा निवासी आलोक ट्रेडर्स के मालिक राज कुमार अग्रवाल उर्फ रज्जू लाला का है रज्जू लाला आलोक ट्रेडर्स के नाम से रुपईडीहा में भी अपनी फर्म चला रहे हैं। और नेपालगंज के खजुरा रोड पर भी इनका गल्ले का कारोबार हैं। वहीं से तस्करी करा कर चाइनीज़ मटर रुपईडीहा में भेजी जाती है और फिर रुपईडीहा आने के बाद मंडी समिति से गेट पास बनवा कर चाइनीज़ मटर को नानपारा व बहराइच वाहनों पर लाद कर भेज दिया जाता है। रुपईडीहा थाना कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मधुप नाथ मिश्र ने बताया कि मटर को सीज कर पकड़े गये दोनों आरोपियों को लैण्ड कस्टम कार्यालय रुपईडीहा के सुपुर्द कर दिया है। वहीं रज्जू लाला के विरुद्ध भी कार्यवाही की जा रही है।

,,,,,तो रज्जू लाला है चाइनीज़ मटर का सौदागार

नानपारा निवासी राजकुमार अग्रवाल उर्फ रज्जू लाला का नाम उस समय सुर्खियों में आया जब नेपाल बॉर्डर पर चाइनीज़ मटर से लदी एक पिकअप पकड़ी गई गुरुवार को रुपईडीहा पुलिस ने एसबीआई बैंक के पास से नेपाल की ओर से नानपारा जा रही पिकअप को रोककर तालाशी ली तो उसमे 139 बोरी चाइनीज़ मटर की खेप बरामद हुई माल के साथ पुलिस ने दो लोगों को भी गिरफ्तार किया था पकड़े गये लोगों ने पुलिस को बताया था कि सारा चाइनीज़ मटर राज कुमार उर्फ रज्जू लाला है। गुरुवार को मटर की खेप पकड़े जाने से यह लग रहा था कि अब मटर की तस्करी नही होगी मगर तस्करों के हौसले पस्त नही हुए आज फिर रज्जू लाला के द्वारा नेपाल से तस्करी कर मंगाई गई 15 कुन्तल चाइनीज़ मटर पुलिस ने पकड़ ली। मटर के साथ रज्जू लाला के दो पल्लेदार भी पकड़े गये दोनों ने कहा कि हम तो साहब लेबर हैं। रज्जू लाला के गोदाम पर हम लोग इस चाइनीज़ मटर को ले जा रहे थे। यह उन्ही का माल है। खैर पुलिस ने तो चाइनीज़ मटर की खेप को कस्टम के सुपुर्द कर दिया है अब देखना होगा कि रज्जू लाला के विरुद्ध पुलिस क्या कार्यवाही करती है।

रुपईडीहा बाजार के किराने की दुकानों पर धड़ल्ले से बिक रहा चाइनीज़ मटर

आपको जानकार हैरान होंगे कि जिस मटर के छोले आप बड़े ही चाव से खाते है क्या वह देशी है जी नही यह मटर चाइनीज़ है और ड्रैगन का बनाया हुआ एक काफी हानिकारक मटर है। यह भारत मे उत्पादन होने वाले मटर से काफी सस्ता होता है इस मटर की कीमत लगभग 25 रुपये किलो है सस्ती होने के कारण अब रुपईडीहा व आसपास के दुकानदार भी अपनी दुकानों पर चाइनीज़ मटर ही धड़ल्ले से बेंच रहे हैं। वहीं बहराइच का फूड विभाग भी कुम्भकर्णी नींद सो रहा है। फूड विभाग को चाहिए कि ऐसे दुकानदारों को चिंहित कर उनके विरुद्ध भी कठोर कार्रवाई करे जिससे दुकानदार पैसे की लालच में मानव जीवन के साथ खिलवाड़ न कर सके।

( संतोष मिश्रा )