उत्तर प्रदेशराजनीतिलोकसभा 2019 चुनाव

भाजपा नेता ने जताई नाराज़गी, कहा- मोदी जी! 50 हजार में सिमट जाएगी पार्टी

अजय अग्रवाल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को खुला पत्र लिखकर उनको और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने लिखा कि कांग्रेस से लेकर जिन्हें रायबरेली में भाजपा का उम्मीदवार बनाया गया है उन्हें 50 हजार से ज्यादा वोट नहीं मिलेंगे

लोकसभा चुनाव 2019 में रायबरेली लोकसभा सीट से टिकट न मिलने पर नाराज़गी जाहिर की है. अजय अग्रवाल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को खुला पत्र लिखकर उनको और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने लिखा कि कांग्रेस से लेकर जिन्हें रायबरेली में भाजपा का उम्मीदवार बनाया गया है उन्हें 50 हजार से ज्यादा वोट नहीं मिलेंगे। कांग्रेस तो इन्हें निकालने की तैयारी में थी लेकिन भाजपा ने टिकट देकर इनका राजनीतिक जीवन बचा लिया।

उन्होंने चिट्ठी में मोदी सरकार के नोटबंदी से लेकर अन्य फैसलों की आलोचना भी की. साथ ही लालकृष्ण आडवाणी को राष्ट्रपति न बनाए जाने को लेकर पत्र में कई उल्लेख किये। अग्रवाल ने यह भी लिखा है कि भाजपा के वर्तमान नेतृत्व के लिए कार्यकर्ताओं के समर्पण और परिश्रम का कोई मूल्य नहीं है। इन्हें अवसरवादी लोग ही पसंद हैं. बता दें कि अजय अग्रवाल रायबरेली लोकसभा सीट से 2014 में सोनिया गाँधी के खिलाफ चुनाव लड़े थे. और उनको हार का सामना करना पड़ा था.

अजय अग्रवाल की मांग थी कि उन्हें इस बार भी रायबरेली से टिकट दिया जाए. उन्होंने पिछले दिनों भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व को पत्र लिखकर धमकी दी थी कि उनका टिकट कटा तो भाजपा को प्रदेश भर में वैश्य समाज की नाराजगी का सामना करना पड़ेगा। पर भाजपा ने उनकी एक न सुनी। पार्टी ने अजय अग्रवाल की जगह कांग्रेस से से भाजपा मे शामिल हुए विधान परिषद सदस्य दिनेश प्रताप सिंह को टिकट दे दिया है. अग्रवाल ने दिनेश प्रताप सिंह पर आरोप लगाया कि उस पर जमीनों पर अवैध कब्जे और अन्य कई मामलों में मुकदमे दर्ज हैं.

अजय अग्रवाल ने प्रधानमंत्री को लिखा है, ‘आप गुजरात का चुनाव हार रहे थे पर मेरे खुलासे से आप दूसरे चरण के चुनाव की सीटें जीत पाए। एक ऑडियो रिकॉर्डिंग भी भेज रहा हूं। जिसमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सहसरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने खुद यह स्वीकार किया है कि हमारे खुलासे से गुजरात में लटकी हुई हार जीत में बदल गई। पर, इस बार भाजपा को जीत नहीं नसीब होगी।

 

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close