भाजपा दलित विरोधी है : आर के चौधरी

भाजपा दलित विरोधी है : आर के चौधरी


सुप्रीम कोर्ट के प्रमोशन में आरक्षण पर की गई टिप्पणी के बाद से ही देश की राजनीति में उबाल आ गया है एक तरफ जहां विपक्ष आरक्षण के मुद्दे पर सरकार को लगातार घेरने की कवायद में जुटा हुआ नजर आ रहा है वहीं दूसरी तरफ कई दलित संगठन भी इस मुद्दे पर भाजपा सरकार पर निशाना साध रहे हैं। इसी कड़ी में आज बसपा के कद्दावर नेता और उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री आर के चौधरी ने आज बीएस 4 के बैनर तले आरक्षण बचाओ पैदल मार्च निकाला और भाजपा सरकार पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाया।

वहीं इस दौरान पूर्व मंत्री ने यह कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने भाजपा सरकार की गलत दलीलों के आगे आरक्षण को लेकर दुर्भाग्यपूर्ण निर्णय लिया और कहा कि राज्य सरकारें आरक्षण देने के लिए बाध्य नहीं हैं। आर.के चौधरी ने आरक्षण की मंशा को विस्तार से बताते हुए कहा कि इससे दलित, लाचार पिछड़ों आदि को जब तक अच्छी जिंदगी जीने का मौका न मिल जाये तब तक आरक्षण रहना चाहिए। यह सरकार दलित विरोधी है और दलितो का विकास नहीं होने देना चाहती।