1 लाख स्वराज सैनिक जुटेंगे परिवर्तन कुंभ में

kumbh

kumbh


देश के ग्रामीण, वनवासी और वंचित तबकों के 30 लाख से ज्यादा बच्चों को बुनियादी शिक्षा से भारत निर्माण में जुटे एकल अभियान को जनांदोलन में बदलने का शंखनाद होने जा रहा है। लखनऊ में 16 से 18 फरवरी के बीच हो रहे परिवर्तन कुंभ के पहले दिन उत्तर भारत के 20 हज़ार गावों से 1 लाख से ज्यादा स्वराज सैनिक रमाबाई आम्बेडकर मैदान पहुंचेगे।

16 फरवरी को 20 हज़ार गावों से सभी दिशाओं से भव्य शोभायात्रा रमाबाई अम्बेडकर मैदान पहुंचेगी । परिवर्तन कुंभ में समाज की अलग अलग संस्थानवल, व्यक्तियों से एक छात्र एक पेड़ गोद लेने की अपील परिवर्तन कुम्भ से की जाएगी। यह विशेष अभियान देश भर में चलाया जाएगा ताकि अधिक से अधिक जनमानस एकल के प्रयासों से जुड़ सके। अभियान के तहत कोई भी व्यक्ति संस्था एक छात्र-एक पेड़ गोद लेकर शिक्षित समाज निर्माण के साथ पर्यायवरण की रक्षा भी कर सकता है।

बता दें कि एकल अभियान को ग्रामीण और आदिवासी बच्चों की शिक्षा में योगदान के लिए वर्ष 2017 का गांधी पीस प्राइज दिया जा चुका है।