Alive24News.com

Uttar Pradesh Lucknow's Latest News in Hindi (हिंदी)

INDvsWI: पहले T20 में लगी रिकॉर्ड्स की झड़ी


विराट कोहली की अगुवाई में टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज को पहले टी-20 मैच में छह विकेट से हरा दिया है। तीन मैचों की टी-20 सीरीज में भारतीय टीम 1-0 से आगे हो गयी है। विराट के नाबाद 94 रन और केएल राहुल के तूफानी अर्धशतक की मदद से भारतीय टीम वेस्टइंडीज के 208 रनों के लक्ष्य का पीछा करने में सफल रही।

हैदराबाद में खेले गए मैच में विराट ने कई रिकॉर्ड भी अपने नाम किए, वहीं तेज गेंदबाज दीपक चाहर के नाम शर्मनाक रिकॉर्ड भी जुड़ गया। ऐसे में एक नजर डालते हैं मैच में बने सभी खास रिकार्ड्स पर।

सबसे बड़ी जीत
भारत ने टी-20 में अपना सबसे बड़ा लक्ष्य हासिल किया है। इससे पहले पिछला रिकॉर्ड 207 रन का था जब 2009 में श्रीलंका पर जीत हासिल की थी। भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 208 रनों के लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया और सबसे बड़ी जीत दर्ज कर ली।

विराट ने रोहित को छोड़ा पीछे
कोहली ने अंतरराष्ट्रीय टी-20 में यह 23वां अर्द्धशतक जड़ा। कोहली ने 50 गेंदों पर छह चौके और इतने ही छक्के लगाए। वे अब इस प्रारूप में सबसे ज्यादा बार 50 या उससे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने इस मामले में हमवतन रोहित को पीछे छोड़ा।

टी-20 में सबसे तेज 2500 रन
विराट अब अंतरराष्ट्रीय टी-20 में सबसे तेज 2500 रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने इस मामले में भी रोहित शर्मा को पीछे छोड़ा।

श्रेष्ठ भी नहीं दिला पाया विंडीज को जीत
टी-20 में यह किसी टीम का भारत के खिलाफ उसकी सरजमीं पर दूसरा श्रेष्ठ प्रदर्शन है। इससे पहले श्रीलंका ने 2009 में नागपुर में 215 रन बनाए थे। इसके बावजूद वेस्टइंडीज को हार का सामना करना पड़ा। टी-20 में इससे पहले केवल एक बार ऐसा हुआ था जब विंडीज 185 से ज्यादा के स्कोर का बचाव नहीं कर पाई थी। 2007 के विश्व कप में जोहानिसबर्ग में तब उसे द. अफ्रीका ने हराया था।

विंडीज ने लगाए पारी में 15 छक्के 
इस मैच में 15 छक्के लगे जो भारत के खिलाफ किसी टी-20 में विपक्षी टीम का तीसरा श्रेष्ठ प्रदर्शन है। सर्वाधिक 21 छक्के विंडीज ने ही 2016 लाउडरहिल में लगाए थे। उसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने 2010 में ब्रिजटाउन में 16 छक्के जड़े थे।

चाहर तीसरे सबसे महंगे गेंदबाज 
युवा तेज गेंदबाज दीपक चाहर ने बांग्लादेश के खिलाफ सात रन देकर छह विकेट लिए थे। वेस्टइंडीज के खिलाफ इसी गेंदबाज ने चार ओवरों में 56 रन देकर एक विकेट हासिल किया। इस लिहाज से यह तीसरा खराब प्रदर्शन है। युजवेंद्र चहल ने पिछले साल सेंचुरियन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 64 रन रन दिए थे। जबकि 2007 में जोगिंदर शर्मा ने डरबन में इंग्लैंड के खिलाफ 57 रन खर्च किए थे।

राहुल के 29 पारियों में 1000 रन पूरे
केएल राहुल ने मैच में अपना सातवां अर्धशतक पूरा किया, साथ ही वे अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट में सबसे तेज हजार रन पूरे करने वाले दुनिया के तीसरे और भारत के दूसरे क्रिकेटर बन गए हैं। लोकेश राहुल ने 62 रन की अपनी पारी के दौरान टी20 अंतरराष्ट्रीय में 1000 रन भी पूरे कर लिए। उन्होंने खारी पियरे की गेंद पर छक्का लगाकर यह मुकाम हासिल किया। उन्होंने 29वीं पारी (32 मैच) में 1000 रन पूरे किए और वह सबसे तेज यह उपलब्धि हासिल करने वाले दुनिया के तीसरे और भारत के दूसरे क्रिकेटर बन गए। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के एरोन फिंच (29 पारियों) की बराबरी की। सबसे तेज 1000 रन पूरे करने का रिकॉर्ड पाकिस्तान के बाबज आजम (26 पारी) के नाम है। भारतीय कप्तान विराट कोहली (27) दूसरे नंबर पर हैं।

युजवेंद्र ने की अश्विन की बराबरी 
युजवेंद्र चहल टी20 में 52वां विकेट लेते ही भारत की ओर से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में संयुक्त रूप से पहले स्थान पर पहुंच गए हैं। उन्होंने विंडीज कप्तान कीरोन पोलार्ड को बोल्ड कर यह उपलब्धि हासिल की। चहल ने 35 मैचों में जबकि रविचंद्रन अश्विन ने 46 मैचों में 52 विकेट लिए हैं। जसप्रीत बुमराह (42 मैचों, 51 विकेट) तीसरे नंबर पर हैं। टी20 में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड श्रीलंका के लसिथ मलिंगा 106 विकेट के नाम है। पाकिस्तान के शाहिद अफरीदी (98) और बांग्लादेश के शाकिब अल हसन (92) तीसरे नंबर पर हैं।