उत्तर प्रदेशराजनीति

कांवरियों की सुविधा के लिए बिहार-यूपी से करेंगे बात : मुख्यमंत्री

जमशेदपुर:कांवरियों के लिए झारखंड सरकार और देवघर के जिला प्रशासन ने काफी काम किया है। अब बिहार और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से बात करेंगे कि वहां भी कांवरियों के लिए बेहतर व्यवस्था की जाए। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने ये बातें सोमवार को जमशेदपुर स्थित सोन मंडप में कहीं। सावन की तीसरी सोमवारी पर देवघर के कांवरियों से ‘सीधी बात’ के दौरान इस आशय की मांग कांवरियों ने की थी।

आजमगढ़ के एक कांवरिया ने मुख्यमंत्री रघुवर दास से कहा कि हमें वहां से देवघर तक आने में बहुत परेशानी होती है। यदि आप हमारे (उत्तर प्रदेश) के मुख्यमंत्री से बात करके ‘मेला स्पेशल’ ट्रेन चलवा दें, तो बहुत बढि़या होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कल (मंगलवार) को रेल मंत्री पीयूष गोयल से मुलाकात होगी, जिसमें यह बात उनके समक्ष रखूंगा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी बात करूंगा। इसी क्रम में एक कांवरिया ने कहा कि जैसी व्यवस्था सुल्तानगंज से देवघर तक कांवरियों के लिए की गई है, वैसी बिहार के रास्ते में होती तो अच्छा होता।

रघुवर दास ने कहा कि वे बिहार के मुख्यमंत्री (नीतीश कुमार) से आग्रह करेंगे कि अपने राज्य में भी देवघर आने वाले कांवरियों के लिए व्यवस्था करें।
सुबह 11.15 बजे से 11.45 बजे तक सिदगोड़ा के सूर्य मंदिर परिसर स्थित सोन मंडप में ‘सीधी बात’ कार्यक्रम हुआ, जिसमें मुख्यमंत्री ने देवघर के सरासरी में मौजूद कांवरियों से ऑनलाइन बात की। देवघर में उपायुक्त राहुल शर्मा कांवरियों से संवाद करा रहे थे। इस दौरान उत्तर प्रदेश के मऊ व आजमगढ़, गोरखपुर, गाजियाबाद, बिहार के भागलपुर व मुंबई सहित विभिन्न राज्यों के कांवरियों से मुख्यमंत्री की बात हुई।

सीधी बात के अंतिम चरण में मुख्यमंत्री ने देवघर के उपायुक्त राहुल शर्मा से कहा कि इस बार सरकार ने बासुकीनाथ से देवघर के लिए निश्शुल्क बस की व्यवस्था की है। कांवरियों से पूछें कि उन्हें यह सुविधा मिल रही है कि नहीं। इस पर सरासरी में सेवा कर रहे आजमगढ़ के एक श्रद्धालु ने बताया कि 40 निश्शुल्क बस चल रही है, जिसका लोग लाभ भी उठा रहे हैं। पिछले वर्ष से इस बार बेहतर व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बासुकीनाथ में फौजदारी बाबा हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close