राजनीति

राफेल डील: संसद के बाहर सोनिया गांधी के नेतृत्व में प्रदर्शन, उठी जेपीसी की मांग

नई दिल्ली: राफेल डील मामले पर कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कांग्रेस सांसदों के साथ संसद के बाहर प्रदर्शन किया और मोदी सरकार पर निशाना साधा। प्रदर्शन में राज्यसभा में कांग्रेस का नेतृत्व करने वाले गुलाम नबी आजाद, पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी, कांग्रेस सांसद अंबिका सोनी समेत कई नेता हाथों में तख्ती लिए दिखे। इन तख्तियों में लिखा था- नरेंद्र मोदी करप्शन एक्सपोज्ड, राफेल कवर-अप आउट इन द ओपन’, राफेल स्कैम एक्सपोज्ड, इस प्रदर्शन में बाकी विपक्षी पार्टियों ने भी भाग लिया।

आजाद और विपक्षी पार्टियों ने इस मामले में जांच के लिए ज्वाइंट पार्लियामेंट कमेटी की भी मांग की।

सदन में सुबह 11 बजे कांग्रेस ने राफेल मामले पर हंगामा करते हुए कहा कि इस मामले पर बहस होनी चाहिए, यह दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला है। वहीं संसदीय मामलों के मंत्री विजय गोयल ने कहा कि विपक्ष के सांसद आधारहीन आरोप लगा रहे हैं, अगर वो इस मामले में पीएम का नाम लेकर आ रहे हैं तो उन्हें सबूत लेकर आना चाहिए।

दिन की शुरुआत में कांग्रेस सांसदों ने राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू की तरफ से आयोजित ब्रेकफास्ट मीटिंग का भी विरोध किया। इसके पीछे की वजह यह बताई गई कि सदन में तीन बिलों को बिना चर्चा के ही पास कर दिया गया। बता दें कि संसद का मॉनसून सत्र समाप्त हो गया।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close