देशबड़ी खबरब्रेकिंगराजनीति

CAA पर बोले PM मोदी -“नागरिकता लेने का नहीं, देने का कानून है”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिवसीय दौरे पर पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता गए हुआ है  और वही बेवूर मठ में लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने नागरिकता कानून को लेकर स्थिति स्पष्ट कर दी ही । साथ ही कहा कि मैं तो वही कर रहा हूं, जो गांधी ने कहा था। राजनीति करने वाले कुछ लोग समझना नहीं चाहते हैं।

बता दें कि इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचार को लेकर वहां की सरकार को भी कठघरे में खड़ा किया और कहा कि अल्पसंख्यकों की स्थिति पर उन्हें जवाब देना होगा। पीएम मोदी ने कहा कि सिटिजनशिप एक्ट, नागरिकता लेने का नहीं, नागरिकता देने का कानून है और सिटिजनशिप अमेंडमेंट एक्ट, उस कानून में सिर्फ एक संशोधन है। साथ ही कहा कि इतनी स्पष्टता के बावजूद, कुछ लोग सिटिजनशिप अमेंडमेंट एक्ट को लेकर भ्रम फैला रहे हैं। मुझे खुशी है कि आज का युवा ही ऐसे लोगों का भ्रम भी दूर कर रहे हैं।

साथ ही पीएम ने कहा कि पाकिस्तान में जिस तरह दूसरे धर्म के लोगों पर अत्याचार होता है, उसे लेकर भी दुनिया भर में आवाज हमारे युवा ही उठा रहे हैं और प्रधानमंत्री ने कहा कि युवा जोश, युवा ऊर्जा ही 21वीं सदी के इस दशक में भारत को बदलने का आधार है। नए भारत का संकल्प, आपके द्वारा ही पूरा किया जाना है। ये युवा सोच ही है जो कहती है कि समस्याओं को टालो नहीं, उनसे टकराओ, उन्हें सुलझाओ।

उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी की वो बात हमें हमेशा याद रखनी होगी जब वो कहते थे कि ‘अगर मुझे सौ ऊर्जावान युवा मिल जाएं, तो मैं भारत को बदल दूंगा।’ यानी परिवर्तन के लिए हमारी ऊर्जा, कुछ करने का जोश ही आवश्यक है।प्रधानमंत्री ने कहा, ‘पिछली बार जब यहां आया था तो गुरुजी, स्वामी आत्मआस्थानंद जी के आशीर्वचन लेकर गया था। आज वो शारीरिक रूप से हमारे बीच विद्यमान नहीं हैं। लेकिन उनका काम, उनका दिखाया मार्ग, रामकृष्ण मिशन के रूप में सदा हमारा मार्ग प्रशस्त करता रहेगा।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close