Alive24News.com

Uttar Pradesh Lucknow's Latest News in Hindi (हिंदी)

सार्वजनिक मंच पर नीतीश के मंत्री ने टोपी पहनने से किया इनकार, विपक्षी दलों ने की कड़ी आलोचना


कटिहार
बिहार सरकार में ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव उस वक्त विपक्ष के निशाने पर आ गए जब उन्होंने अल्पसंख्यकों के एक कार्यक्रम के दौरान सार्वजनिक मंच पर टोपी पहनने से इंकार कर दिया। विपक्ष ने इस बात की कड़ी आलोचना की। हालांकि, बाद में जदयू ने बयान जारी करते हुए कहा कि मंत्री ने टोपी कबूल कर ली है। बता दें कि, जदयू के कुछ नेताओं को जिम्मेदारी दी गई है कि वे पार्टी का खिसकता जनाधार संभाले। जिसके लिए कद्दावर मंत्री बिजेंद्र यादव एव विधान पार्षद के उपसभापति हारून रशीद और एमएलसी खालिद अनवर को विशेष जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसी क्रम में कटिहार जिले के सालमारी में जदयू ने अल्पसंख्यकों के बीच अपने पकड़ मजबूत करने के लिए सियासी व तालीमी बेदारी काॅन्फ्रेंस में हिस्सा लिया।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की ओर से ऊर्जा मंत्री मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव इस कार्यक्रम में पहुंचे। इस दौरान मंत्री ने मंच पर सार्वजनिक तौर पर टोपी पहनने से इनकार कर दिया। सीमांचल के इलाके में इस तरह के आयोजन का खास महत्व है। मगर मंच पर स्वागत के दौरान मंत्री द्वारा टोपी पहनने से इनकार करने से एक बार फिर इसे लेकर सियासी हमला तेज हो गया है। जनचेतना मंच के अध्यक्ष मोहम्मद सलाउद्दीन ने कहा कि जदयू अब बीजेपी के एजेंडे पर काम कर रही है। इसलिए पहले तो मंत्री ने मजार में जाने से मना कर दिया और फिर सार्वजनिक मंच पर अल्पसंख्यकों की आस्था से जुड़ी टोपी पहनने से इनकार कर दिया। वहीं जदयू ने परिस्थिति को समझते हुए डैमेज कंट्रोल में बयान जारी करते हुए कहा कि उन्होंने टोपी कबूल कर ली है, इसलिए इस पर बात नहीं होनी चाहिए।