Alive24News.com

Uttar Pradesh Lucknow's Latest News in Hindi (हिंदी)

मोदीजी बढ़ते दामों से जनता परेशान, GST के दायरे में कब आएगा पेट्रोल-डीजल ??


पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती के बाद कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर फिर निशाना साधा है। चल रहे तेल के खेल पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर पीएम मोदी पर बड़ा हमला बोला है। राहुल ने कहा कि तेल की कीमतें आसमान छू रही है और सरकार दो रुपए दाम घटा कर वाहवाही लूट रही है। पेट्रोल-डीजल की कीमतों से लोग हलकान हैं। इसे GST के दायरे में क्यों नहीं लाया जा रहा है। राहुल गांधी ने पीएम मोदी से जल्द से जल्द जीएसटी के दायरे में लाने की अपील की।

आदरणीय श्री मोदीजी, आम जनता पेट्रोल-डीजल के आसमान छूते दामों से बहुत ज्यादा परेशान है।
आप कृपया पेट्रोल-डीजल को GST के दायरे में ले आइए।

इससे पहले कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर बड़ा हमला बोला था। कांग्रेस ने कहा कि ये महंगाई के घाव पर मरहम है। केंद्र का यह फैसला जनता के गुस्से से डरकर और पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर किया गया है। उन्होंने केंद्र सरकार को लूट सरकार करार दिया और कहा कि जनता इस लूट का उसे उचित जवाब देगी। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि मोदी को बताना होगा कि विश्व बाजार से सस्ता तेल खरीदकर पिछले 52 माह के दौरान करीब 13 लाख करोड़ की जो जबरदस्त कमाई की गई है वह पैसा कहां गया और इसका हिसाब उसे जनता को देना पड़ेगा।

पेट्रोल-डीजल की बढ़ीं कीमतों पर मोदी सरकार ने देशवासियों की बड़ी राहत दी। 7 राज्यों में तेल के दाम कम किए गए हैं। केंद्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर लगने वाली एक्साइज ड्यूटी में प्रति लीटर 1.50 रुपए की कटौती की है। इसके अलावा तेल कंपनियों से भी 1 रुपए प्रति लीटर की कमी करने को कहा है। इस प्रकार अब आम जनता को पेट्रोल डीजल ढाई रुपए सस्ता मिलेगा। साथ ही केंद्र सरकार ने राज्यों से भी पेट्रोल-डीजल को 2.50 रुपए सस्ता करने को कहा है। इससे लोगों को 5 रुपए प्रति लीटर की राहत मिली है। इस फैसले से सरकार को सालाना करीब 21 हजार करोड़ रुपए का नुकसान होगा।