राजनीति

चुनावी साल में विश्व आदिवासी दिवस पर जंगल सत्याग्रह करेगी कांग्रेस

छत्तीसगढ़: प्रदेश कांग्रेस कमेटी 9 अगस्त से जंगल सत्याग्रह के रूप में सरकार के खिलाफ शंखनाद करेगी। इसी संबंध में रणनीति बनाने के लिए कांग्रेस भवन में आदिवासी कांग्रेस की बैठक रखी गई थी। भूराजस्व संहिता बिल की वापसी कांग्रेस का मास्टर स्ट्रोक साबित हुआ था। छत्तीसगढ़ कांग्रेस एक बार फिर भूराजस्व संहिता बिल की वापसी को राजपत्र में प्रकाशित करने के लिए सरकार को घेरेगी।

9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस पर कांग्रेस जंगल सत्याग्रह का शंखनाद करेगी और प्रदेश भर में आदिवासियों के बीच जाएगी। जंगल सत्याग्रह के बहाने कांग्रेस पेशा कानून से लेकर आदिवासियों की तमाम समस्याओं को सुनेगी। प्रदेश कांग्रेस भवन में रणनीतियों को लेकर आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ की बैठक रखी गई थी। इसमें कांग्रेस के तमाम दिग्गज आदिवासी नेता शामिल हुए।

बीजेपी के प्रवक्ता श्रीचंद सुंदरानी का मानना है कि कांग्रेस की इन सब कवायदों का कोई खास असर नहीं पड़ने वाला है। बता दें कि भू राजस्व संहिता विधेयक समेत आदिवासियों के कई मुद्दों को लेकर पिछले दिनों कांग्रेस कई बार बीजेपी पर भारी पड़ी है। ऐसे में देखना होगा कि कांग्रेस का जंगल सत्याग्रह क्या इस बार भी बीजेपी को मुश्किल में डाल सकता है। वहीं इसके जवाब में बीजेपी की क्या तैयारी होगी।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close