राजनीति

छत्तीसगढ़: कांग्रेस और बसपा के गठबंधन को लेकर अभी तस्वीर साफ नहीं- सूत्र

छत्तीसगढ़: गठबंधन की राजनीति पर विराम लगता नजर नहीं आ रही है। कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन को लेकर अभी तस्वीर साफ नहीं हुई है, लेकिन सियासी गलियारों में एक बार फिर से सियायत तेज हो गई है।

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव इस साल के आखिर में होने हैं और चुनाव होने में बस चंद महीनों का ही समय बचा है। कांग्रेस और बसपा के गठबंधन को लेकर मचा सियासी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस गठबंधन को लेकर बसपा ने राजधानी में बड़ी बैठक की, लेकिन अभी भी गठबंधन को लेकर धुंध साफ नहीं हो रही है।

बसपा के प्रदेश प्रभारी अशोक सिद्धार्थ का कहना है कि गठबंधन को लेकर हाई कमान से अभी कोई दिशानिर्देश नहीं मिले हैं। दिशानिर्देश मिलने के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी। दूसरी ओर कांग्रेस गठबंधन को लेकर फूंक-फूंक कर कदम रख रही है। कांग्रेस के पीसीसी संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेष नितिन त्रिवेदी का कहना है कि गठबंधन का फैसला हाई कमान के हाथ में है और गठबंधन की क्या स्थिति बनती हैं यब अभी भविष्य के गर्भ में है।

भाजपा कांग्रेस-बसपा के गठबंधन से कोई खास इत्तेफाक​ नहीं रखती है। भाजपा प्रवक्ता सुनील सोनी का मानना हैं कि छोटे राज्य में इस तरह का गठबंधन एक बीमारी की तरह है।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close