अन्य ख़बरें

NRC पर घमासान: 11 अगस्त को शाह जाएंगे बंगाल, रैली की इजाजत नहीं

नई दिल्ली: असम में नैशनल सिटिजन रजिस्टर का फाइनल ड्राफ्ट जारी होने के बाद से पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ऐक्टिव हो गईं। ममता ने दिल्ली आकर ताबड़तोड़ विपक्षी नेताओं से मुलाकात की और एनआरसी लिस्ट से 40 लाख लोगों के बाहर होने पर केंद्र सरकार पर हमले कर रही हैं।

राजनीतिक बयानबाजी के बीच बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह 11 अगस्त को पश्चिम बंगाल का दौरा करनेवाले हैं। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि शाह को रैली की इजाजत नहीं मिली है। अमित शाह को दौरे से पहले ही रैली की इजाजत नहीं मिली है और इस पर राजनीतिक घमासान मचना तय है। मीडिया में ऐसी खबरें भी हैं कि गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी बंगाल का दौरा करनेवाले हैं। अगले साल जनवरी में होनेवाली मेगा रैली की तैयारी में जुटीं ममता इस वक्त दिल्ली में ऐंटी बीजेपी दलों को एकजुट करने में जुटी हैं।

शाह भी बंगाल में बीजेपी की पकड़ मजबूत करने की लगातार कोशिश कर रहे हैं। राजनीतिक विश्लेषक अभी से कयास लगा रहे हैं कि एनआरसी लिस्ट को लेकर ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर असम में रह रहे बंगाल के लोगों से भेदभाव का आरोप लगाया है। बीजेपी अध्यक्ष की बंगाल यात्रा और रैली की इजाजत नहीं मिलने के बाद इस पर राजनीतिक सरगर्मी जरूर हो सकती है।

इससे पहले जून में भी बीजेपी अध्यक्ष ने दो दिनों का दौरा बंगाल में किया था। बंगाल दौरे पर शाह ने परिवर्तन का नारा देते हुए ममता सरकार पर हल्ला बोला था। ममता भी 2019 चुनावों से पहले लगातार बीजेपी पर हमलावर मूड में हैं। दिल्ली में ममता सोनिया गांधी और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से भी बुधवार को मुलाकात करेंगी।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close