देशबड़ी खबर

उत्तराखंड की प्रोफेसर ने सेना के लिए जो काम करने को कहा है, वो जानकर आप भी करेंगे उन्हें सलाम

देश की सरहदों की सुरक्षा के लिए जान की बाजी लगाने वाले जवानों के लिए पंतनगर विश्व विद्यालय के कुक्कुट फार्म के भंडारक रजनीश पांडेय से प्रेरित होकर एसोसिएट प्रो. डॉ. रुचिरा तिवारी ने आर्थिक सहयोग की पहल की है। रजनीश पांडेय अपने वेतन का एक फीसदी वेतन सेना के खाते में देते है । वही डॉ. रुचिरा हर माह वेतन में से पांच फीसदी राशि विवि के माध्यम भारतीय सेना के खाते में भेजेंगी और यह क्रम सेवानिवृत्ति तक चलेगा ।

पिछले साल प्रो. डॉ. रुचिरा एसोसिएट प्रोफेसर के पद पर पदोन्नत हुई। उनके पति डॉ. मनीष श्रीवास्तव भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान नई दिल्ली में प्रिंसिपल साइंटिस्ट हैं। रुचिरा कहती है कि सेना की वजह से हम लोग सुरक्षित जीवन जी पाते हैं। उनका मन आर्मी के जवानों की मदद करने को था लेकिन मदद करने की प्रक्रिया की जानकारी नहीं थी।
प्रो. डॉ. रुचिरा ने बताया कि 1994 में विश्व विद्यालय से एमएससी किया था। 1996-98 तक इबाराकी यूनिवर्सिटी टोकियो जापान में रिसर्चर पद पर रहीं और जनवरी 2000 में पंतनगर विश्व विद्यालय से कीट विज्ञान विभाग में पीएचडी की और फिर 2006 से विश्व विद्यालय में ही सहायक प्रोफेसर के पद पर ज्वाइनिंग हो गई थी।

 

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close