Alive24News.com

Uttar Pradesh Lucknow's Latest News in Hindi (हिंदी)

तेजस एक्सप्रेस के ऑटोमेटिक डोर हुए जाम


देश की पहली कारपोरेट ट्रेन तेजस के डिब्बे यात्रियों के लिए मुसीबत बन गए  है। गुरुवार को लखनऊ जंक्शन पर तेजस एक्सप्रेस की सी-6 डिब्बे का दरवाजा जाम हो गया था और काफी मशक्कत के बाद जब दरवाजा नहीं खुला तो यात्रियों ने मैकेनिकल स्टाफ को सूचना देकर आटोमेटिक गेट को ठीक करवाया गया। तब जाकर ट्रेन लखनऊ जंक्शन से दिल्ली के लिए रवाना हो सकी।

बता दें कि चार अक्तूबर को तेजस एक्सप्रेस की शुरूआत हुई थी। पहली बार यह ट्रेन लखनऊ जंक्शन से नई दिल्ली गई। आईआरसीटीसी के अधिकारियों ने दावा किया था कि यह बेहद अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस ट्रेन है। जिसमें आटोमेटिक डोर से लेकर सेंसरयुक्त पानी की टोटियां व डस्टबिन तक लगाए गए हैं। एक माह बीतने पर यह सब सुविधाएं यात्रियों के लिए मुसीबत बन गई। सेंसरयुक्त पानी की टोटियां जहां छाया पड़ते ही पानी गिरने लगता है।

वहीं बोगी के शीशों की फिटिंग में गड़बड़ी को लेकर यात्रियों की शिकायतें सामने आ रही है। ऐसे ही डिब्बों में लगी कुर्सियां भी टूट रही है। हाल ही में एग्जीक्यूटिव क्लास की पांच कुर्सियों को यात्री की शिकायत पर बदला गया। इतना ही नहीं ट्रायल के दौरान बोगियों से आवाजें आ रही थीं, जिन्हें दूर करने के प्रयास आज तक नहीं किए गए। बता दें कि सात नवंबर गुरुवार को तेजस का ट्रेन नंबर 82501 का लखनऊ जंक्शन पर सी-6 डिब्बे का आटोमेटिक डोर फंस गया, जिससे यात्री डिब्बे में नहीं चढ़ सके। मरम्मत कमी को मौके पर बुलाकर सेंसरयुक्त दरवाजा सही कराया गया।