क्राइमदेशबड़ी खबरब्रेकिंग

CAA के खिलाफ दिल्ली के ब्रह्मपुरी और मौजपुर सहित कई इलाके में तीसरे दिन भी पत्थरबाजी

दिल्ली के मौजपुर में हालात तनावपूर्ण हैं। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ दिल्ली के ब्रह्मपुरी और मौजपुर सहित कई इलाके में तीसरे दिन भी पत्थरबाजी और हिंसक प्रदर्शन जारी है। आज सुबह ही कुछ इलाकों में उपद्रवियों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी। रविवार से शुरू हुई हिंसा में अब तक एक हेड कांस्टेबल समेत पांच लोगों की मौत हो चुकी है वहीं सुरक्षा के तौर पर पांच मेट्रो स्टेशन, जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जौहरी एंक्लेव और शिव विहार बंद कर दिए हैं।

दरअसल, CAA को लेकर दो पक्षों में जबरदस्त भिडंत हो गई। सीएए के समर्थक और विरोधी मौजपुर में आपस में भिड़ गए। दोनों ने एक-दूसरे पर जमकर पत्थरबाजी की यहां तक कि फायरिंग भी हुई। दोपहर 11 बजे शुरू हुआ हंगामा 2 बजे तक चलता रहा। हालात बेकाबू हुए तो पुलिस को भी एक्शन लेना पड़ा। इस भिड़ंत में उपद्रवियों ने कई घर भी जला दिए हैं। फिलहाल इलाके में तनाव बना हुआ है।

जानकारी है कि दिल्ली में मौजपुर और ब्रह्मपुरी के अलावा करावल नगर में भी आज भड़के कुछ प्रदर्शनकारियों ने दो-तीन गाड़ियों में आग लगा दी जिसमें एक दमकलगाड़ी भी शामिल थी। इस दौरान तीन दमकलकर्मी घायल हो गए। वहीं दूसरी तरफ दिल्ली पुलिस के जानकारी को मुताबिक हालात बहुत तनावपूर्ण हैं। आज सुबह ही ब्रह्मपुरी इलाके में पत्थरबाजी के बाद रैपिड एक्शन फोर्स और पुलिस ने फ्लैग मार्च किया। उत्तरपूर्वी दिल्ली के फायर डायरेक्टर ने जानकारी दी है कि विभाग को सोमवार से लेकर मंगलवार सुबह तीन बजे तक कुल 45 फोन आ चुके है। दिल्ली पुलिस के कमिश्नर ने इसे लेकर कल देर रात सीलमपुर डीसीपी के दफ्तर पर बैठक भी की।

जिसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दिल्ली के कई हिस्सों में हो रही हिंसा को लेकर कहा कि दिल्ली के कुछ इलाकों में फैली हिंसा को लेकर चिंतित हूं। हम सबको मिलकर शहर में अमन कायम करने के सभी कदम उठाने चाहिए। मैं सबसे दोबारा विनती करता हूं कि हिंसा मत करिए। जिसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने सरकारी आवास पर हिंसा प्रभावित इलाकों के विधायकों और अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई है।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close