छपाक : काल्पनिक या हकीकत


एंकर—पहले जामिया, अब jnu …मामला चाहे CAA को प्रोटेस्ट करना हो या जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में फीस को लेकर हुए प्रोटेस्ट के बाद हो रहे बवाल …भारत की राजधानी दिल्ली की सड़कें आये दिन छात्रों के आवाज़ से गूंजती रहती हैं…लेकिन सडकों पर हो रहे इन विरोद्धों को ज्यादा हवा तब मिल जाती है कोई राजनीति या फिल्म इंडस्ट्री की शक्सियत इसमें “छापाक” से एंट्री कर लेता है ..आप सभी समझ ही गए होंगे हम किसकी बात कर रहे हैं जी हाँ दीपिका पादुकोण की..जो अपनी अपकामिंग फिल्म छपाक को लेकर चर्चाओं में है लेकिन इसी बीच दीपिका जेएनयू पहुंची और विरोध कर रहे छात्रों को समर्थन किया जिसके बाद दीपिका कैसे घिर गयी देखिये इस रिपोर्ट में —

Vio—1–सारा मामला जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय (जेएनयू) का है जहां रविवार देर शाम कुछ अज्ञात नकाबपोश लोगों ने विश्वविद्यालय परिसर में घुसकर शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे छात्रों के साथ मारपीट करने लगे जिसके बाद abvp छात्र संघ से लेकर दिल्ली पुलिस प्रशसान तक सवालों के घेरे में है इसी बीच आपको ये बता दें jnu में हुयी फीस वृद्धि को लेकर सारे छात्रों का प्रोटेस्ट था जो हिंसा देखते ही देखते हिंसा में तब्दील हो गया … वहीं, इस मामले पर राजनीतिक दलों से लेकर फिल्म इंडस्ट्री के कई नेता और बड़े अभिनेता ने सवाल खड़े किये कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इसे छात्रों की आवाज दबाने की कोशिश करार दिया है साथ ही दिल्ली सीएम अरविन्द केजरीवाल ने कहा है कि इस सन्दर्भ में उन्होंने एलजी से बात की है और स्थिति को तुरंत काबू में किये जाने का अनुरोध किया है।

वीओ 2—वैसे तो अक्सर बड़ी हस्तियां विवादित मुद्दों पर बोलने से कतराती हैं मगर जब