देश

40 से ज्यादा दानिप्स अफसरों के आईपीएस बनने की उम्मीदें जगीं

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की कार्यप्रणाली से जुड़े नियमों में सुधार के लिए बनाई गई संसद की स्टैंडिंग कमिटी की रिपोर्ट में की गई सिफारिशों ने उन दानिप्स अफसरों की उम्मीदें जगा दी हैं, जो सालों से आईपीएस में इंडक्ट होने का इंतजार कर रहे हैं। कमिटी ने अपनी सिफारिश में साफ कहा है कि सीनियर लेवल पर खाली पड़े पदों को पहले इन अफसरों के जरिए भरा जाए और तब तक आईपीएस से कोई डायरेक्ट भर्ती न की जाए।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि कमिटी की रिपोर्ट अभी लोकसभा में पेश की गई है और उसकी सिफारिशों को अमल में लाने के लिए गृह मंत्रालय को दिल्ली पुलिस में नियुक्तियों से जुड़े नियमों में बदलाव करना होगा, जिसमें वक्त लगेगा। मगर कुछ अधिकारी इसी बात से खुश हैं कि इतने सालों से वे जिस मुद्दे को लेकर विभाग के अंदर और बाहर लड़ाई लड़ रहे थे, वह कम से कम रेकॉर्ड पर तो आया। ऐसे में अधिकारियों को उम्मीद है कि गृह मंत्रालय इस पर गंभीरता से विचार करेगा और कमिटी की सिफारिशों को अमल में लाया जाएगा। सभी सिफारिशें काफी सकारात्मक हैं और इससे भविष्य में पुलिस सुधारों में भी काफी मदद मिलेगी।

दिल्ली पुलिस के सूत्रों के अनुसार, पुलिस विभाग में करीब 40 ऐसे दानिप्स अफसर हैं, जिनका कार्यकाल 8 साल से ज्यादा हो चुका है, लेकिन अभी तक आईपीएस में उनका इंडक्शन नहीं हुआ है। इनमें कुछ अधिकारी तो ऐसे हैं, जिनकी सर्विस को एक या डेढ़ दशक से भी ज्यादा का समय हो चुका है, मगर उन्हें अनुभव में अपने से जूनियर आईपीएस अफसरों के मातहत काम करना पड़ रहा है। कमिटी ने दूसरे राज्यों का हवाला देते हुए साफतौर पर कहा है कि दिल्ली में भी दानिप्स अफसरों को 8 साल की सर्विस के बाद आईपीएस में इंडक्ट किया जाए।
संसद की स्थायी समिति ने अपनी रिपोर्ट में दानिप्स अफसरों के आईपीएस में इंडक्शन के साथ-साथ यह सिफारिश भी की है कि ऐसे अफसरों को जिलों में डीसीपी और रेंज में अडिशनल सीपी या जॉइंट सीपी के रूप में तैनात किया जाए, ताकि उनके अनुभव का लाभ लिया जा सके। इस वक्त दिल्ली पुलिस के केवल एक जिले (रोहिणी) में ही ऐसे डीसीपी तैनात हैं, जिन्हें दानिप्स से आईपीएस में इंडक्ट किया गया है। बाकी सभी डीसीपी सिविल सर्विसेज के माध्यम से चुनकर आए हैं। जॉइंट सीपी की 6 पोस्टें इस वक्त खाली हैं। एक और पोस्ट जनवरी में खाली हो जाएगी।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close