प्रधानमंत्री मोदी से मिलकर भावुक हुए कश्मीरी पंडित


सात दिवसीय अमेरिकी दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ह्यूस्टन में पहला दिन अमेरिकी सीईओ से लेकर भारतीय समुदाय के लोगों के साथ मुलाकातों और बातों में बीता। भारतीय समुदाय के लोग प्रधानमंत्री से मिलकर काफी खुश नजर आए। सिख समुदाय के लोगों ने करतारपुर कॉरिडोर के लिए उनका धन्यवाद किया तो वहीं अमेरिका में रहने वाले कश्मीरी पंडित उनसे मिलकर भावुक हो गए।

यही नहीं, कश्मीरी पंडितों से मिलने के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी भावुक नजर आए। बातचीत के दौरान कश्मीरी पंडितों के समुदाय का प्रतिनिधित्व करने वाले सुरिंदर कौल ने उनका हाथ चूम लिया। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के फैसले का स्वागत करते हुए पीएम मोदी से कहा कि जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए जाने वाले हर कदम में आपके साथ हैं।

सुरिंदर कौल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने हमसे कहा कि आपने बहुत कुछ सहा है और हम साथ मिलकर नया कश्मीर बनाएंगे। हमारे युवाओं ने उन्हें वह संदेश दिए जो समुदाय ने उनके लिए तैयार किए हैं। उन्होंने इसे सहर्ष स्वीकार कर लिया। कौल ने मीडिया से बातचीत में कहा कि हमने उन्हें सात लाख कश्मीरी पंडितों की तरफ से यह ऐतिहासिक फैसला लेने की वजह से धन्यवाद कहा। हमने उन्हें आश्वासन दिया कि हमारा समुदाय सरकार के साथ मिलकर उस कश्मीर के सपने को पूरा करेगा, जहां शांति होगी, विकास होगा और सभी खुशहाल होंगे।

कश्मीरी पंडितों को वापस बसाया जाए

कश्मीरी पंडितों ने प्रधानमंत्री को जो ज्ञापन सौंपा, उसमें कश्मीर में उनके समुदाय के लोगों को फिर से बसाए जाने और कश्मीर का विकास करने का अनुरोध किया। इसके लिए उन्होंने एक सलाहकार परिषद का गठन करने की मांग की, जिसमें कश्मीरी पंडित नेताओं, विशेषज्ञों और उद्योगपतियों को शामिल किया जाए।