देशबड़ी खबर

मछली ने चमकाई मछुआरे की किस्मत, 5.5 लाख में बिकी मछली

मुंबई : यह आम दिन था और मछुआरे को पता नहीं था कि आज उसकी किस्मत बदलने वाली है। यह संयोग अच्छा था कि उसके हाथ घोल मछली लग गई और उस मछली ने उसे एक दिन में लखपति बना दिया। ये मछुआरे रोज की तरह पालघर समुद्रतट पर मछलियां पकड़ने गए थे। यहां उसके जाल में घोल मछली फंस गई और यह मछली 5.5 लाख रुपये में बिकी।

बताया जा रहा है कि काफी लंबे समय बाद यहां से कोई घोल मछली मिली है। मछुआरा महेश मेहर और उनके भाई भरत समुद्र में अपनी छोटी सी नाव से मछली पकड़ने गए थे। जब वे मुर्बे तट पर पहुंचे तो उनका जाल भारी हो गया। वे समझ गए कि जाल में मछली फंस गई है। उन्होंने देखा तो यह घोल फिश थी। मछली का वजन लगभग 30 किलोग्राम था।

महेश और उनके भाई द्वारा पकड़ी गई घोल फिश की खबर जंगल में आग की तरह फैल गई। जब तक वे समुद्र के किनारे पहुंचते किनारे पर व्यापारियों की लंबी लाइन लगी थी। दोनों के आते ही घोल मछली की बोली शुरू हुई। बीस मिनट में यह बोली खत्म हो गई और इसे 5.5 लाख रुपये में एक व्यापारी ने खरीद लिया। यह मछली स्वादिष्ट तो होती ही है, साथ ही मछली के अंगों के औषधीय गुणों के कारण पूर्वी एशिया में इसकी कीमत बहुत ज्यादा है। यहां तक कि घोल (ब्लैकस्पॉटेड क्रॉकर, वैज्ञानिक नाम प्रोटोनिबा डायकांथस) को ‘सोने के दिल वाली मछली’ के रूप में भी जाना जाता है। बाजार में मछली के हिसाब से अलग-अलग कीमतें होती हैं। मछुआरे महेश ने उसे सबसे ऊंचे रेट पर बेचा।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close