Alive24News.com

Uttar Pradesh Lucknow's Latest News in Hindi (हिंदी)

लोगों की एकता लाई रंग, सरकार उठाएगी उत्तराखंड की बेटी के इलाज का खर्च।


उत्तराखंड: हर खिलाड़ी का सपना होता है अपने देश का नाम रौशन करें। यही एक सपना उत्तराखंड की बेटी गरिमा जोशी का भी है। इसी सपने को पूरा करने गरिमा जोशी 27 मई 2018 को बंगलोर में आयोजित हुई 10 किलोमीटर राष्ट्रीय स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लिया था। उसके लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 25 हजार रुपए की आर्थिक मदद की थी।

गरिमा ने प्रतियोगिता में अच्छा प्रदर्शन कर उत्तराखंड को छठा स्थान प्राप्त कराया था। सब कुछ अच्छा ही चल रहा था कि बेंगलोर में ही कार एक्सीडेंट में उसके सपनों को ऐसा झटका दिया जो शायद ही अब पहाड़ की बेटी को मैदान पर कभी उतरने देगा। इस हादसे में गरिमा की स्पाइनल कोर्ड टूट गई, वहीं नीचे का हिस्सा पैरालाइज हो गया है। पिता पूरन जोशी ने रानीखेत बाजार से 10 प्रतिशत मासिक की दर से जमीन मकान गिरवी रखके 5 लाख रुपये कर्जा लेकर रीढ़ की हड्डी का आपरेशन करवाया है जिसमे की 18 रॉड पड़ी हैं । गरिमा का बैंगलोर में इलाज चल रहा है और उसका भाई उसकी देखरेख कर रहा है। वहीं गरिमा की मां आशा जोशी कैंसर से पीडित हैं जिनका इलाज दिल्ली सफदरजंग हॉस्पिटल में चल रहा है।

परिवार बहुत ही दयनीय स्थिति से जूझ रहा है। सरकार या फिर खेल फेडरेशन कोई मदद नही कर रहा था। जब इसकी जानकारी Alive24News को लगी उसी वक़्त ALIVE24NEWS के सवांददाता ने गरिमा जोशी के पिता जी से बातचीत की और उनकी सारी परेशानी को सुना और तुरंत ही एक मुहीम शुरू की और लोगों से अपील की जो जितनी आर्थिक मदद उस परिवार की कर सकता है जरूर करें। इस मुहीम में देश के हर कोने से लोगों ने मदद की और खास करके उत्तराखंड के लोगों ने सोशल मीडिया पर अपनी ताकत और एकता से इस मुहीम को एक अलग ही मुकाम पर पहुँचा दिया। इस मुहीम का असर ऐसा हुआ कि उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत को मामला संज्ञान में लेना पड़ा और टवीट करके कहा कि – “अल्मोड़ा के चिलियानौला गांव की धाविका कुमारी गरिमा जोशी के इलाज का पूरा खर्च राज्य सरकार वहन करेगी। गरिमा राष्ट्रीय स्तर की 10 किमी दौड़ में भाग लेने बंगलूरू गई थी जहां सड़क हादसे में वह गंभीर रूप से घायल हो गई थी। गरिमा के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं।”
https://t.co/T9w93mH8n0

ALIVE24NEWS उन सभी लोगों का दिल से धन्यवाद करता है जिन्होंने इस मुहीम में हिस्सा लिया और उस परिवार की मदद की।