देशबड़ी खबरबिज़नेसब्रेकिंग

साल के आखिरी दिन वित्त मंत्री ने किया बड़ा ऐलान

 

प्रोजेक्ट में निवेश के लिए सिंगल ऑनलाइन फॉर्म

प्रोजेक्ट में निवेश के लिए एक सिंगल ऑनलाइन फॉर्म को भी शुरू करने का एलान किया जा सकता है। सिंगल विंडो सिस्टम में केंद्र से मंजूरी मिलने की समय सीमा पहले से तय होगी। यह सिंगल विंडो सैल 21 राज्यों में होगी। प्रत्येक मंत्रालय और राज्य में बात करने के लिए दो लोगों को नियुक्त किया जाएगा।

टास्क फोर्स का किया था गठन

इस पाइपलाइन के निर्माण के लिए सीतारमण ने एक टास्क फोर्स का गठन किया था। यह टास्क फोर्स अपनी रिपोर्ट को सौंप सकती है। इसके अलावा एक सिंगल विंडो सिस्टम कारोबारियों के लिए बनाया जाएगा ताकि केंद्र और राज्य सरकारों से उन्हें एक ही जगह सारी मंजूरी मिल जाए। यह सिंगल विंडो सिस्टम चार चरणों में पूरा होगा।

प्रेस कांफ्रेस की खास बातें

वित्त मंत्री ने 2019 के लिए वित्त मंत्रालय का रिपोर्ट कार्ड।
नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर पाइपलाइन को लॉन्च करने की घोषणा
102 लाख करोड़ रुपये का होगा व्यय

70 स्टेकहोल्डर से की बातचीत

यह पाइपलाइन बिजली, गैस,सड़क और अन्य जरूरतों को पूरा किया जाएगा। मॉनिटर करने वाले समूह को काम करने की आजादी दी जाएगी।

वैश्विक बिजनेस मीट का होगा आयोजन

वार्षिक वैश्विक बिजनेस मीट का आयोजन करेगी सरकार, इससे कारोबारियों को वैश्विक माहौल में कारोबार करने की सहूलियत मिलेगी।

निजी क्षेत्र की भागीदारी निवेश में बढ़ाने का लक्ष्य

सरकार का 100 लाख करोड़ रुपये इंफ्रा प्रोजेक्ट पर खर्च करने का अगले पांच सालों के लिए लक्ष्य। निजी क्षेत्र को अपना निवेश 30 फीसदी तक बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।
Tags
Show More

Related Articles

Close
Close