देशबड़ी खबरब्रेकिंग

राहुल, राफेल और सबरीमाला पर कल आएगा फैसला

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के रिटायर होने की तारीख जैसे-जैसे करीब आ रही है, सुप्रीम कोर्ट कई अहम मुद्दों पर अपने फैसले सुनाती जा रही है। अयोध्‍या के बाद  अब सबरीमाला मंदिर का मामला सुप्रीम कोर्ट के समक्ष है, जिस पर सुप्रीम कोर्ट  गुरुवार को फैसला देगी। केरल के इस मंदिर में पारंपरिक तौर पर एक खास उम्र की महिलाओं का प्रवेश वर्जित था, जिसे सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले में ही निरस्‍त कर दिया गया था। सुप्रीम कोर्ट के उसी फैसले के खिलाफ रिव्‍यू पिटिशन दायर की गई, जिस पर गुरुवार को फैसला आना है।

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस आरएफ नरीमन, जस्टिस एएम खानविलकर, जस्टिस डीवाय चंद्रचूड़ और जस्टिस इंदू मल्‍होत्रा की संविधान पीठ सबरीमला रिव्‍यू पिट‍िशन पर गुरुवार को सुबह करीब 10:30 बजे फैसला सुनाएगी। सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ ने फरवरी में इस मामले में दायर कई पुनर्विचार याचिकाओं पर फैसला सुरक्षित रख लिया था। सुप्रीम कोर्ट ने बीते साल 28 सितंबर को सभी उम्र की महिलाओं को सबरीमला मंदिर में प्रवेश की अनुमति दी थी, जिसे पारंपरिक रीति-रिवाजों के खिलाफ मानते हुए कुछ लोगों ने इसका विरोध भी किया। हालांकि पुलिस की सुरक्षा में महिलाएं ‘गोपनीय’ तरीके से मंदिर के गर्भ-गृह तक पहुंचने में कामयाब रहीं।

सुप्रीम कोर्ट जिस एक अन्‍य महत्‍वपूर्ण मुद्दे पर गुरुवार को फैसला देने जा रहा है, उसमें राफेल डील भी शामिल है, जो आम चुनाव के दौरान सुर्खियों में रहा। तत्‍कालीन कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने इस मुद्दे को लेकर सीधे तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा तो खुद को देश का ‘चौकीदार’ बताने वाले पीएम के लिए ‘चौकीदार चोर है’ का नारा भी दिया, जिसे लेकर बीजेपी नेता मीनाक्षी लेखी ने कांग्रेस नेता के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया था। सुप्रीम कोर्ट में इस पर भी गुरुवार को ही फैसला आने की उम्‍मीद है।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close