देशबड़ी खबरब्रेकिंगराजनीति

कांग्रेस की पदयात्रा: सोनिया गांधी ने RSS को लेक‍र दिया बड़ा बयान

सोनिया बोलीं- ‘वो’ गांधी को हटाकर RSS को देश का प्रतीक बनाना चाहते हैं

बुधवार (2 अक्‍टूबर) को पूरा देश और दुनिया महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मना रहा है। वहीं, इस मौके पर आज कांग्रेस पार्टी देश के कई हिस्सों में पदयात्रा निकाल रही है, जिसे ‘गांधी संदेश यात्रा’ का नाम दिया गया है। कांग्रेस अध्यक्ष (अंतरिम) सोनिया गांधी ने आरएसएस (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोग आरएसएस को भारत का प्रतीक बनाना चाहते हैं। पदयात्रा जब राजघाट पहुंची तो कांग्रेस की अतंरिम अध्यक्ष सोनिया ने कहा, भारत की बुनियाद में गांधी के सिद्धांत हैं।

सोनिया गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि महात्मा गांधी ने पूरी दुनिया को अहिंसा का रास्ता अपनाने की प्रेरणा दी। आज भारत जहां पहुंचा है वह गांधी के रास्ते पर चलकर पहुंचा है। उन्‍होंने कहा कि गांधी का नाम लेना आसान है, लेकिन उनके रास्ते पर चलना मुश्किल है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि महात्मा गांधी के रास्ते से हटकर अपनी दिशा में ले जाने वाले पहले भी कम नहीं थे, पिछले कुछ वर्षों में साम-दाम-दंड-भेद का खुला कारोबार करके वे अपने आपको बहुत ताकतवर समझते हैं, इसके सभी के बावजूद भारत नहीं भटका है क्योंकि हमारे मुल्क में गांधी के विचारों की आधारशिला है।
उन्होंने कहा कि आजकल कुछ लोगों ने गांधी के विचारों उल्टा करने की कोशिश की है, कुछ लोग चाहते हैं कि गांधी नहीं RSS देश का प्रतीक बन जाए, लेकिन ऐसा नहीं हो सकता है।

खुद को सर्वेसर्वा बताने वाले गांधी को क्या जाने: सोनिया गांधी

कांग्रेस अध्‍यक्ष (अंतरिम) सोनिया गांधी ने कहा कि जो असत्य पर आधारित राजनीति कर रहे हैं वो कैसे समझेंगे कि गांधी सत्य के पुजारी थी। जिन्हें अपनी सत्ता के लिए सबकुछ करना मंजूर है वो कैसे समझेंगे कि गांधी अहिंसा के पुजारी थे। जिन्हें मौका मिलते ही अपने आपको सर्वेसर्वा बनाने की आदत हो वो गांधी के निस्वार्थ का मूल्य कैसे समझेंगे। उन्‍होंने कहा कि कि नेहरू-इंदिरा-राजीव-नरसिम्हा और मनमोहन सिंह ने देश को तरक्की के नाम पर ले जाने का काम किया है। पिछले कुछ साल में भारत की हालत जो हुई है उसे देखकर गांधी की आत्मा काफी दुखी होगी। आज किसान बदहाल हैं, युवा बेरोजगार हैं, माताएं-बहनें सुरक्षित नहीं हैं।

राहुल गांधी ने किया ट्वीट

कांग्रेस पार्टी के पूर्व राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि राष्ट्रपिता ने दिखाया है कि कैसे सभी जीवित प्राणियों के लिए प्रेम और अहिंसा ही एकमात्र तरीका है, जिससे हम कट्टरता और घृणा को परास्त कर सकते हैं। राहुल गांधी ने ट्विटर पर लिखा- महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर महात्मा गांधी जी को मेरी श्रद्धांजलि। राष्ट्रपिता जिन्होंने अपने शब्दों और कर्मों के जरिए हमें दिखाया कि सभी जीवित प्राणियों और अहिंसा के प्रति प्रेम ही उत्पीड़न, कट्टरता और घृणा को हराने का एकमात्र तरीका है।

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने साधा निशाना

कांग्रेस की इस पदयात्रा पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने तंज कसा है। उन्होंने कांग्रेसियों को राहुल गांधी की परिक्रमा करने की नसीहत दी है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा- “गांधी जी की जयंती पर कांग्रेस पदयात्रा कर रही है। कांग्रेस कार्यालय से राजघाट की बजाय राहुल गांधी की परिक्रमा कांग्रेसी कर लें, उनकी पद यात्रा पूरी हो जाएगी।”

कांग्रेस की पदयात्रा

बता दें कि कांग्रेस पार्टी आज देश के कई हिस्सों में पदयात्रा निकाल रही है। दिल्ली में यह यात्रा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में निकाली गई। कांग्रेस मुख्यालय से राजघाट तक हजारों कार्यकर्ता सफेद कपड़े और सिर पर गांधी टोपी लगाकर पदयात्रा में शामिल हुए। सोनिया स्वास्थ्य कारणों से सीधे राजघाट पहुंचीं। वहीं, प्रियंका गांधी वाड्रा लखनऊ में पदयात्रा निकाल रही हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close