देशराजनीति

कांग्रेस ने नहीं मांगा समर्थन इसलिए उप-सभापति चुनाव का ‘बहिष्कार’ करना मजबूरी: आप

नई दिल्ली
– उप-सभापति चुनाव का ‘बहिष्कार’ करेगी AAP, कहा- ‘इसके अलावा कोई विकल्प नहीं’

आम आदमी पार्टी ने राज्यसभा के उप-सभापति पद के लिए आज होने वाले चुनाव का ‘बहिष्कार’ करने का फैसला लिया है। आप के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने एनडीए गठबंधन के उम्मीदवार हरिवंश का समर्थन करने के बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अनुरोध को ठुकरा दिया है।

केजरीवाल ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि उन्हें बीजेपी का समर्थन मिला है। सिंह ने कहा कि चूंकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने विपक्ष के उम्मीदवार के लिए आप से समर्थन नहीं मांगा है, ऐसे में केजरीवाल के नेतृत्व वाली पार्टी के पास ‘आज होने वाले चुनाव का बहिष्कार करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है।

कर्नाटक से कांग्रेस सांसद बी.के.हरिप्रसाद राज्यसभा के उपसभापति पद के लिए विपक्ष के उम्मीदवार हैं। सिंह ने संवाददाताओं से कहा कि अगर कांग्रेस हमसे वोट मांगती है तो हम उसे वोट देंगे। अगर उन्हें जरूरत नहीं है तो उनके पक्ष में वोट देने का कोई मतलब नहीं है। बाद में सिंह ने ट्वीट किया, नीतीश कुमार जी ने अरविन्द केजरीवाल जी से बात कर जदयू उम्मीदवार के लिए समर्थन मांगा। चूंकि वो बीजेपी समर्थित उम्मीदवार हैं, उनका समर्थन करना संभव नहीं है। राहुल गांधी जी अपने उम्मीदवार के लिए समर्थन नहीं चाहते हैं।।। ऐसे में आप के पास चुनाव के बहिष्कार करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है।

आपको बता दें कि 2015 में नीतीश कुमार और अरविन्द केजरीवाल ने एक-दूसरे के राज्यों में जाकर एक-दूसरे के लिए वोट मांगे थे। लेकिन नीतीश के यूपीए का साथ छोड़कर वापस राजग में शामिल होने के बाद दोनों के संबंधों में खटास आ गयी। सिंह ने सवाल किया, अगर राहुल गांधी नरेन्द्र मोदी को गले लगा सकते हैं, तो वो अपनी पार्टी के उम्मीदवार के लिए अरविन्द केजरीवाल से समर्थन क्यों नहीं मांग सकते? आप के राज्यसभा में तीन सदस्य हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close