देशराजनीति

CM नीतीश ने विपक्ष को दिया करारा जवाब-मेरी चुप्पी का गलत मतलब निकाला

पटना: मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि इस मामले में मेरी चुप्पी को गलत तरह से पेश किया, अगर किसी को पहले से इसकी जानकारी थी तो लोगों ने बताया क्यों नहीं? आज जो लोग शोर मचा रहे, आरोप लगा रहे वो पहले कहां थे? मुख्यमंत्री आज लोक संवाद की बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों के सवाल का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि लोग समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा पर, उनके पति पर आरोप लगा रहे हैं मैंने उनसे पूछा तो उन्होंने इससे इन्कार किया है। अब जांच चल रही है, जो दोषी होंगे वो जाएंगे। कोई नहीं बचेगा।

मुख्यमंत्री ने विपक्ष को करारा जवाब देते हुए कहा कि इस मामले में किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा। लोगों ने भ्रम फैलाना शुरू किया और मुझे जैसे ही इस मामले की जानकारी मिली मैंने तुरत सीबीआइ जांच की बात की। दोषियों पर कार्रवाई की जा रही है। हमने सदन में भी मामले पर वक्तव्य दिया। मुजफ्फरपुर की घटना अत्यंत शर्मनाक है, इसकी जितनी भी निंदा की जाए कम है। लोकसंवाद में ही इस घटना की मुझे जानकारी मिली थी।

अब हाईकोर्ट की मॉनिटरिंग में इसकी जांच होगी।
सीएम ने कहा कि अब शेल्टर होम एनजीओ नहीं, सरकार चलाएगी। अब चरणबद्ध तरीके से काम होगा। पत्रकारों ने पूछा कि समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा के इस्तीफे की चर्चा पर सीएम ने कहा कि समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा अग दोषी होंगीं तो वो भी जाएंगी। लेकिन, अकारण किसी पर कार्रवाई नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि मंत्री ने भी अपना पक्ष रखा है। नीतीश ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि महिलाओं को लेकर कौन क्या कहता है और किसपर क्या इल्जाम लगे हैं? ये किसी से छुपा नहीं है। महिलाओं को अपशब्द कहने वाले लोग जंतर-मंतर में कैंडल मार्च में शामिल थे।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close