Alive24News.com

Uttar Pradesh Lucknow's Latest News in Hindi (हिंदी)

चिन्मयानंद केस : एसआईटी को मिली बड़ी कामियाबी


रेप और यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार हुए पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद से 5 करोड़ की रंगदारी मामले में पीड़ित छात्रा की संलिप्तता पाई गई है  और एसआईटी प्रमुख आईजी नवीन अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान इस बात की जानकारी दी है।

बता दें कि एसआईटी की पूछताछ के दौरान चिन्मयानंद ने माना है कि उनसे गलती हो गई थी। उन्हीं ने मालिश के लिए छात्रा को अपने कमरे में बुलाया था और  इस दौरान चिन्मयानंद ने कहा कि वो अपने किए पर शर्मिंदा हैं और उससे बड़ी भूल हुई है।

इससे पहले पुलिस ने चिन्मयानंद के खिलाफ दर्ज केस में रेप की धारा जोड़ी थी। शुक्रवार सुबह स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम ने चिन्मयानंद को उनके आश्रम से गिरफ्तार किया था।  इसके बाद उनका मेडिकल टेस्ट कराकर एसआईटी ने उन्हें कोर्ट में पेश किया था और कोर्ट ने चिन्मयानंद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

साथ ही स्पेशल इन्वेस्टिगेशन के प्रमुख नवीन अरोड़ा ने कहा कि स्वामी चिन्मयानंद ने अपने खिलाफ लगे लगभग सभी आरोपों को स्वीकार किया है और  उन्होंने कहा कि वह इस बारे में ज्यादा कुछ नहीं कहना चाहते क्योंकि वह अपने इन कार्यों से शर्मिंदा हैं। एसआईटी के सूत्रों के मुताबिक, गिरफ्तार तीनों युवकों को भी चिन्मयानंद के साथ ही स्थानीय सीजेएम अदालत में पेश किया गया।  एसआईटी का मानना है कि इस पूरे मामले में स्वामी के साथ तीनों ही युवकों की खास भूमिका रही थी।