क्राइमदेश

मेरठ बवाल में गिरफ्तार हुए भाजपा कार्यकर्ता, अभी खुल सकते हैं कई बड़े राज

मेरठ : मेरठ के सदर बाजार थानाक्षेत्र के भूसा मंडी में बीते दिनों झुग्गियों में आग लगने के बाद बवाल मचा था। तभी से पुलिस इस मामले को सुलझाने में लगी थी। पुलिस की पूछताछ में आरोपी शाहिद समेत कई लोगो के नाम सामने आया। फोटो और वीडियो से आरोपियों की पहचान हो पाई । सोमवार को पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ता शाहिद भारती को गिरफ्तार कर लिया।
आपको बता दें कि उन आरोपियों की तलाश में पुलिस ने कई जगहों पर दबिश दी, लेकिन कोई भी हत्थे नहीं चढ़ा। शाहिद ने बताया कि पुलिस पर दबाव बनाने के लिए इस्तेयाक की पत्नी आसमां उर्फ काली ने झुग्गियों में आग लगाई थी। इससे पहले पुलिस चार आरोपी इस्तेयाक, नदीम, अब्बास और रहीसुद्दीन उर्फ चिल्ली को जेल भेज चुकी है।
एसओ विजय कुमार गुप्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी इस्तेयाक, उसकी पत्नी आसमां उर्फ काली समेत पूरा परिवार अवैध शराब बेचता है। कई बार पुलिस उनको जेल भेज चुकी है। रहीस का मकान ध्वस्त करने के बाद पुलिस ने धमकी दी थी कि अवैध निर्माण नहीं होने देंगे। उसके बाद आसमां उर्फ काली ने झुग्गियों में आग लगाकर पुलिस पर दबाव बनने की प्लानिंग की। पुलिस की जांच में और जेल भेजे आरोपियों के मुताबिक भूसा मंडी में आग आसमां उर्फ काली ने लगाई थी।
पुलिस आगजनी का मुख्य आरोपी आसमां उर्फ काली को बनाने की बात कह रही है। इसको देखते हुए काली की गिरफ्तारी के लिए एक टीम अलग गठित की गई है। इसमें एक महिला दरोगा, दो महिला सिपाही समेत आठ पुलिसकर्मी हैं। पुलिस ने बताया कि काली की तलाश में उसके कई रिश्तेदारों के यहां दबिश दी गई। लेकिन वह हत्थे नहीं चढ़ी। पुलिस जल्द ही काली और उसके बेटे आरिफ को गिरफ्तार कर जेल भेजने की बात कह रही है।
Tags
Show More

Related Articles

Close
Close