उत्तर प्रदेशदेशबड़ी खबरब्रेकिंगलखनऊ

AKTU द्वारा प्रवेश निरस्त करने का आदेश खारिज

हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी के सैकड़ों छात्रों को बड़ी राहत दी है। उच्च     न्यायालय ने उनके प्रवेश को निरस्त करने के यूनिवर्सिटी के आदेश को खारिज कर दिया है। इसके साथ ही न्यायालय ने छात्रों को नियमित छात्र के तौर पर पढाई जारी रखने की अनुमति देने का निर्देश यूनिवर्सिटी को दिया है।

यह आदेश न्यायमूर्ति विवेक चौधरी की एकल सदस्यीय पीठ ने साहिर सुहेल व अन्य की ओर से दाखिल याचिकाओं पर दिया है। याचियों का कहना था कि यूनिवर्सिटी ने विभिन्न कॉलेजों में पढ़ रहे तकनीकी विषयों के 306 छात्रों का प्रवेश निरस्त कर दिया था। यूनिवर्सिटी का कहना था कि जिन छात्रों का प्रवेश निरस्त किया गया, वे सभी जिस झारखंड स्टेट ओपन स्कूल से 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की है, उसकी मान्यता यूनिवर्सिटी ने समाप्त कर दी है।

न्यायालय ने पाया कि छात्रों के प्रवेश के वक्त उक्त स्कूल को विश्वविद्यालय ने मान्यता दे रखी थी व छात्रों के मूल प्रमाण पत्रों का सत्यापन कराने के पश्चात ही उन्हें प्रवेश दिया गया था। इस परिस्थितियों को देखते हुए न्यायालय ने प्रभावित छात्रों के प्रवेश को यथावत करने का आदेश पारित किया है। न्यायालय ने कहा कि उक्त स्कूल द्वारा जैसे एकेटीयू को धोखाधड़ी का शिकार हुआ है, उसी प्रकार छात्र भी हुए हैं। ऐसे में उन्हें दोबारा 12वीं की परीक्षा देने को कहना, उनके लिए बहुत ही कठोर निर्णय होगा।

 

 

Show More

Related Articles

Close
Close