Alive24News.com

Uttar Pradesh Lucknow's Latest News in Hindi (हिंदी)

फसलें चौपट करने वाली 17 गायों को दी दर्दनाक मौत


मध्यप्रदेश के ग्वालियर जिले से एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसे सुनकर ही दिल दहल जाए। मामला जिले के समूदन गांव का है, जहां 20 दिन तक कमरे में बंद कर भूखा-प्यासा रखे जाने से 17 गायों की मौत हो गई। बेदर्द गांव वालों ने इन गायों को ऐसे कमरे में बंद किया था, जहां सूर्य का उजाला तक नहीं था। ऐसे में 20 दिन चारा-पानी नहीं मिलने से उनकी मौत हो गई। पुलिस ने मामले में 12 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

मिली जानकारी के मुताबिक, जिले के डबरा शहर से लगभग 10 किलोमीटर दूर समूदन गांव में हाईवे के किनारे शासकीय माध्यमिक पाठशाला है। इसके परिसर में पटवारियों के बैठने के लिए बने भवन के दो कक्षों में कुछ ग्रामीणों ने 20 दिन पहले 17 गायों को बंद कर दिया था। कारण यह था कि इन गायों ने उनके खेतों में खड़ी धान की फसल चौपट कर दी थी। बुधवार को कमरे से बदबू आने पर गांव की सरपंच के पति बलवीर सिंह, पंचायत सचिव प्रदीप राणा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता प्रेमाबाई को गायों की मौत की जानकारी मिली थी।

एसडीएम को जांच करने के निर्देश

वहीं, इन पर आरोप है कि इन सभी ने मामले को दबाने का प्रयास किया। इसके लिए रात में ही कमरे की दीवार जेसीबी से तोड़ी गई और आंगनबाड़ी केंद्र के बाहर ही मरी गायों को दफनाने का प्रयास किया। गुरुवार को प्रदेश की मंत्री इमरती देवी, कलेक्टर अनुराग चौधरी मौके पर पहुंचे और एसडीएम को जांच करने के निर्देश देते हुए शुक्रवार को रिपोर्ट देने के लिए कहा।

मुख्यमंत्री कमलनाथ के ट्वीट पर जागा प्रशासन

उधर, घटना को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दोपहर में एक ट्वीट किया। उन्होंने लिखा- ग्वालियर के डबरा के समूदन में 17 गायों की मृत्यु की खबर बेहद दुखद है। निष्पक्ष जांच के निर्देश दिए हैं। हम गो माता की रक्षा और संवर्धन के लिए निरंतर प्रयासरत और वचनबद्ध हैं। ऐसी घटनाएं बर्दाश्त नहीं की जा सकती हैं। इस ट्वीट के बाद रात में कलेक्टर-एसपी सहित अधिकारी मौके पर पहुंचे।