सीधी बात, नो बकवास : आम की ये खास बात, ना करें नज़रअंदाज़


गर्मी के मौसम में आम की बहार लोगों के चेहरे पर मुस्कान ले आती है. ये बात और है कि कुछ लोगों को गर्मी का मौसम चुभता है, लेकिन फिर भी हर किसी को इस सीजन का बेसब्री से इंतज़ार भी रहता है. इसमें कोई दो राय नहीं कि भारत में आम को फलों का राजा यूं ही नहीं माना जाता, बल्कि आम को बेहद पोष्टिक भी माना जाता हैं।


सीधी बात, नो बकवास : आम की ये खास बात, ना करें नज़रअंदाज़

सीधी बात, नो बकवास : आम की ये खास बात, ना करें नज़रअंदाज़


लखनऊ : गर्मी के मौसम में आम की बहार लोगों के चेहरे पर मुस्कान ले आती है. ये बात और है कि कुछ लोगों को गर्मी का मौसम चुभता है, लेकिन फिर भी हर किसी को इस सीजन का बेसब्री से इंतज़ार भी रहता है. इसमें कोई दो राय नहीं कि भारत में आम को फलों का राजा माना जाता, इसके साथ ही आम को बेहद पोष्टिक भी माना जाता हैं। आम में पॉली-फेनोलिक फ्लेवेनोएड एंटीओक्सिडेंटस, प्री-बायोटिक डाइट्री फाइबर्स, विटामिन सी, विटामिन ई, थाइमिन, राइबोफ्लेविन, नीयासिन, विटामिन बी, फोलेट, पैंटाफेनीक एसिड, कोलिन आदि भरपूर मात्रा में पाया जाता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि भारत में आम की 100 से भी अधिक किस्में मौजूद हैं, जिन्हें अलग अलग रंग, आकार, आकृति से पहचाना जाता है. इसकी खेती पहाड़ी इलाकों को छोड़ कर लगभग भारत के हर हिस्से में की जाती है.

सीधी बात, नो बकवास : आम की ये खास बात, ना करें नज़रअंदाज़

कई बीमारियों से दिलाता है निजात

आम दिल से सम्बंधित बिमारियों को दूर करने के लिए सहायक माना जाता है. यदि आप इसे अपनी डाइट में शामिल करते हैं तो यह आपको दिल की बिमारियों से दूर रखेगा. आम में पाए जाने वाले केरोटीनॉयड, एक्स्कोर्बिक एसिड, टर्पेनोइड, पैंटाफेनीक एसिड कैंसर के खतरे को दूर रखने में मदद करते है. शरीर को स्वस्थ्य रखने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता का सही होना बेहद ज़रूरी है. ऐसा न होने पर शरीर, मौसम में बदलाव के कारण या फिर धूल मिटटी से होने वाले संक्रमण का आसानी से शिकार बन जाता है. इसमें भारी मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है, जो आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है. आम के उपयोग से पाचन सम्बन्धी समस्याएं भी दूर होती है. साथ ही कब्ज़ की समस्या से भी निजात दिलाने में काफी मददगार साबित होता है.

सीधी बात, नो बकवास : आम की ये खास बात, ना करें नज़रअंदाज़

वैसे तो आम के सेवन का आपके शरीर पर कोई दुष्प्रभाव नहीं होता. लेकिन अगर आप इसका अधिक मात्रा में सेवन करते हैं तो यह आपके स्वस्थ्य के लिए हानिकारक भी साबित हो सकता है. इसीलिए इसका सेवन ज़रूरत अनुसार करें, ताकि आप किसी भी प्रकार के दुष्प्रभाव से बचे रहें. आम मीठा होने के कारण शरीर में रक्त-शर्करा स्तर में बढ़ोत्तरी करता है. इसीलिए शुगर के मरीजों को आम के सेवन से बचना चाहिए. ऐसे में उन्हें डोक्टरों के परामर्श पर ही आम का सेवन करना चाहिए. इसमें फाइबर भी आधिक मात्रा में पाया जाता है, इसलिए इसके सेवन से पेट में दर्द व दस्त की समस्या भी उत्पन हो सकती है. इसके साथ ही आम में ज्यादा मात्रा में केलोरी पाई जाती है जिससे वजन बढ़ने की समस्या हो सकती है. वहीं कई लोगों को एलर्जी का भी सामना करना पड़ जाता है.