आरोपों तले दबे इजराइल के पीएम नेतन्याहू


इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू बड़े झटके से गुजर रहे हैं। दरअसल नेतन्याहू पर  रिश्वत, भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी और विश्वासघात करने का आरोप लगा था जो की अब कानूनी तौर पर तय हो गया है की उन्होंने ऐसा ही किया था।

देश के न्याय मंत्रालय ने बेंजामिन नेतन्याहू पर लगे सभी आरोपों को सही पाया है। अब नेतन्याहू को अदालत में मुकदमे का सामना करना पड़ेगा और अगर वह दोषी ठहराए जाते हैं तो वो आगे होने वाले चुनावों से हाथ धो बैठेंगें और सत्ता पर उनकी पकड़ ढीली पड़ सकती है। साथ ही नेतन्याहू को 10 साल की जेल भी हो सकती है। 

इजरायल के अटॉर्नी जनरल अविचाई मंडेलब्लिट ने इसराइल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू पर तीन अलग-अलग मामलों में रिश्वत लेने, धोखाधड़ी करने और विश्वासघात का आरोप लगाया था। जिन्हें गुरुवार को देश के न्याय मंत्रालय में अटॉर्नी जनरल ने अभियोग जारी करते हुए नेतन्याहू पर लगे सारे आरोपों को तय किए।