खेलविदेश

शराब पीकर नशे की हालत में हर्शल गिब्स ने जड़े थे 175 रन, टीम ने रचा था इतिहास

पूर्व ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेटर माइक हसी ने भी अपनी किताब में इस बारे में जिक्र किया है. उन्‍होंने लिखा, 'सोने से ठीक पहले मैंने अपने होटल के कमरे से बाहर देखा कि गिब्‍स अभी भी वहां है. गिब्‍स जब सुबह नाश्‍ते के लिए आए थे, तब भी वो नशे में दिख रहे थे.'

13 साल पहले (12 मार्च, 2006) जोहानिसबर्ग के वांडरर्स स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका ने आज ही के दिन इतिहास रचा था. अफ्रीकी टीम ने वनडे इतिहास के सबसे बड़े लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा करने का रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज किया था.

ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 434 रन बनाए थे. जो उस वक्त का सबसे बड़ा स्कोर था. पहाड़ जैसे इस लक्ष्य के बावजूद दक्षिण अफ्रीका ने इस मैच में जीत दर्ज की थी. इस जीत के हीरो हर्शल गिब्स थे. जिन्होंने 111 गेंदों में 175 रनों की शानदार पारी खेली थी.  बताया जाता है कि उस मैच के दौरान वह शराब के नशे में थे और नशे की हालत में ही उन्होंने वह पारी खेली थी.

इस बारे में गिब्स ने खुद खुलासा किया था और बताया था कि वह शराब के नशे में थे. गिब्स ने ऑटोबायोग्राफी ‘टू द पॉइंट : द नो होल्ड्स बार्ड में बताया है कि उस मैच से पहले की रात उन्होंने काफी शराब पी थी और मैच वाले दिन वह हैंगओवर में थे.

पूर्व ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेटर माइक हसी ने भी अपनी किताब में इस बारे में जिक्र किया है. उन्‍होंने लिखा, ‘सोने से ठीक पहले मैंने अपने होटल के कमरे से बाहर देखा कि गिब्‍स अभी भी वहां है. गिब्‍स जब सुबह नाश्‍ते के लिए आए थे, तब भी वो नशे में दिख रहे थे.’

उस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने कप्तान रिकी पोंटिंग की 105 गेंदों में 164 रनों (9 छक्के, 13 चौके) की तूफानी पारी की बदौलत 434/4 रन बनाए थे. तब वनडे इतिहास में पहली बार किसी टीम ने 400 से ज्यादा का स्कोर खड़ा किया था.

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close