क्राइमविदेश

‘पैर फैलाकर बैठी लड़की’ के पोस्टर से मचा कोहराम, रेप की मिली धमकी

प्रदर्शन आयोजित करने वाली महिलाओं को रेप की धमकियां दी जा रही हैं और कुछ स्त्रीवादी महिलाओं ने भी इसका पुरजोर विरोध किया है

पाकिस्तान में एक पोस्टर को लेकर हंगामा मच गया है. यह हंगामा महिला अधिकारों को लेकर निकाले गए मार्च के एक पोस्टर से हुआ है. प्रदर्शन आयोजित करने वाली महिलाओं को रेप की धमकियां दी जा रही हैं और कुछ स्त्रीवादी महिलाओं ने भी इसका पुरजोर विरोध किया है.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस पोस्टर में एक लड़की को पैर फैलाकर बैठी हुई दिखाया गया है. कराची में पढ़ाई करने वाली छात्राएं रुमिसा लखानी और रशीदा शब्बीर हुसैन द्वारा यह पोस्टर तैयार किया गया था. ‘पैर फैलाकर बैठी लड़की’ के पोस्टर पर उर्दू में लिखा गया है- “यहां, मैं बिल्कुल सही तरीके से बैठी हूं.” पोस्टर की लड़की धूप के चश्मे भी पहनी हुई है.

एक रिपोर्ट के मुताबिक, रुमिसा कम्युनिकेशन डिजाइन की छात्रा हैं, जबकि रशीदा सोशल डेवलपमेंट एंड पॉलिसी की पढ़ाई कर रही हैं. साथ ही दोनों बहुत अच्छी दोस्त भी हैं.

रुमिसा का कहना है कि ‘औरत’ नाम के प्रदर्शन में हिस्सा लेना बेहतरीन अहसास था. इस प्रदर्शन में बड़ी संख्या में महिलाएं और एलजीबीटी समुदाय के लोग भी शरीक हुए थे.

हालांकि, पाकिस्तान के कट्टरपंथियों को ‘औरत’ मार्च से करारा झटका लगा. सोशल मीडिया पर भी एक तबके ने औरतों के प्रदर्शन को लेकर कहा कि उन्हें ऐसे समाज की जरूरत नहीं है. मार्च की एक आयोजक मोनीजा ने कहा कि प्रदर्शन के बाद रेप और हत्या की धमकी मिलना आजकल आम बात हो गई है.

 

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close