मनोरंजन

‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के डायरेक्टर जीएसटी फ्रॉड में हुए गिरफ्तार

नई दिल्ली: फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के डायरेक्टर और रत्नाकर गुट्टे के बेटे विजय रत्नाकर गुट्टे को जीएसटी इंटेलिजेंस के डायरेक्टोरेट जनरल ने गिरफ्तार किया है। विजय रत्नाकर गुट्टे को मुंबई से जीएसटी संबंधी 34 करोड़ रुपए के फ्रॉड के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

मीडिया के मुताबिक विजय गुट्टे की फर्म, वीआरजी डिजिटल कॉर्प प्रइवेट लिमिटेड पर फेक इनवॉइस के जरिए 34 करोड़ रुपए का जीएसटी संबंधी फ्रॉड करने का आरोप लगा है। गुट्टे की फर्म पर हॉरिजन ऑउटसोर्स सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड से प्राप्त एनीमेशन और मैनपावर सर्विस के लिए फेक इनवॉइस लेने का आरोप है।

ये कंपनी पहले ही 170 करोड़ रुपए के जीएसटी फ्रॉड आरोप में सरकारी एजेंसी की रडार पर है। कोर्ट डॉक्यूमेंट के मुताबिक, वीआरजी डिजिटल क्रॉप ने CENVAT के खिलाफ गलत तरीके से सरकार से 28 करोड़ रुपए का कैश रिफंड क्लेम किया था।
विजय गुट्टे पर सीजीएसटी एक्ट की धारा 132 (1)(सी) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की लाइफ पर बन रही फिल्म ‘द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ में अनुपम खेर पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के रोल में नजर आएंगे। यह एक पॉलिटिकल ड्रामा है, जो संजय बारू की किताब पर आधारित है। फिल्म में भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के प्राइम मिनिस्टर बनने के दौरान की कहानी बयां की जाएगी।

संजय बारू 2004 से 2008 के बीच तत्कालीन प्रधानमंत्री के मीडिया सलाहकार थे। इस फिल्म को नए डायरेक्टर विजय रत्नाकर गुट्टे डायरेक्ट करेंगे। राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फिल्मकार हंसल मेहता फिल्म का स्क्रीनप्ले लिखा है। वहीं सुनिल बोहरा इस फिल्म को प्रोड्यूस करेंगे।

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close