क्राइम

टीचर ने बुलाई कॉलगर्ल, गैंग ने MMS बनाकर क‍िया ब्लैकमेल

गैंग ने टीचर से 5 लाख रुपये की मांग की और टीचर ने पांच हजार कैश और 95 हजार के सेल्फ चेक पर बात तय की. पर बाद में यह गिरोह दोबारा ब्लैकमेल करने लगा और चेक की बजाय सीधे कैश की मांग करने लगा

पंजाब: पंजाब के होश‍ियारपुर ज‍िले में पुलिस ने एक ऐसे गिरोह की धरपकड़ की है जो कि क्लाइंट की डिमांड पर पहले कॉलगर्ल भेजता था और बाद में आपत्तिजनक हालत में वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करता था.

पुलिस के मुताबिक, रमेश कुमार उर्फ लोटू जो कि होश‍ियारपुर ज‍िले के बहादुर इलाके का रहने वाला था. वह गैस चूल्हे और स्टोव को ठीक करने का काम करता था. उसी के मोहल्ले के रहने वाले एक सरकारी टीचर के साथ उसकी जान-पहचान थी जो अपनी पत्नी से अलग रहता है.

6 अप्रैल को टीचर ने लोटू से कॉलगर्ल की डिमांड की और लोटू दो लड़कियों को लेकर टीचर के घर पहुंच गया. एक कमरे में टीचर एक लड़की के साथ थे और एक में लोटू एक लड़की के साथ. जब टीचर आपत्तिजनक स्थिति में था तभी अचानक लोटू की गैंग की महिला साथी मीना, दो अन्य लड़के गुरजीत कुमार और बलविंदर सिंह घर के पीछे के दरवाजे से अंदर घुस गए जो लोटू ने पहले से खोल रखा था. और फिर उन्होंने टीचर का वीडियो बना लिया और फिर उसे ब्लैकमेल करने लगे.

इस गैंग ने टीचर से 5 लाख रुपये की मांग की और टीचर ने पांच हजार कैश और 95 हजार के सेल्फ चेक पर बात तय की. पर बाद में यह गिरोह दोबारा ब्लैकमेल करने लगा और चेक की बजाय सीधे कैश की मांग करने लगा. टीचर की शिकायत पर पुलिस ने ट्रैप लगाकर गिरोह के 5 मेंबर्स को गिरफ्तार कर ल‍िया. पकड़ी गए लोगों में से एक मेंबर मीना, हरमिंदर सिंह की पत्नी है. जिस पर नशा तस्करी के आरोप में अदालत में केस चल रहा है जबकि उसका पति कत्ल के मामले में जेल में बंद है.

8 अप्रैल को पुलिस ने लोटू समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया। 9 अप्रैल को टीचर के ड्यूटी पर चले जाने के बाद लोटू के दो बेटे गोविंद नंद उर्फ मनी और गौरव आनंद अपने दोस्त जसवीर सिंह के साथ मिलकर टीचर के घर गए और उसके पिता को किडनैप कर थाना शहर से 50 मीटर की दूरी पर लेबर अड्डे पर ले आए.

लोटू के गिरोह ने पिता को लाइब्रेरी में बैठाया और कहा कि वह अपने बेटे से राजीनामा का दबाव बनाए। पिता ने टीचर बेटे को बताई हुई जगह पर बुलाया पर टीचर ने इस बात की जानकारी पुलिस को दे दी. इस तरह से पुलिस ने मंगलवार को ट्रैप लगाकर लोटू के दोनों बेटे और उसके दोस्त को भी गिरफ्तार कर लिया।

इस तरह से पुलिस ने कुल 8 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि अभी भी दो लड़कियां फरार चल रही हैं. पुलिस ने आईपीसी की धारा 389, 420, 120 बी के तहत लोटू, मीना, सुरिंदर कौर शिंदो, गुरजीत सिंह, पलविंदर सिंह, जसवीर सिंह, गोविंद नंद उर्फ मनी और गौरव आनंद को गिरफ्तार कर मुकदमा दर्ज कर लिया है.

Tags
Show More

Related Articles

Close
Close