Alive24News.com

Uttar Pradesh Lucknow's Latest News in Hindi (हिंदी)

JNU प्रशासन की रिपोर्ट: बाहरी कोई नहीं, आपस में भिड़े दो छात्र गट


जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में रविवार को छात्रों पर जो हमला हुआ था वो किसी भी बाहरी व्यक्ति का काम नहीं था। बल्कि यह जेएनयू के छात्रों के दो गुटों की आपस की लड़ाई थी। दोनों ही गुटों ने चेहरे पर नकाब पहनकर एक-दूसरे पर हमला किया था। जेएनयू प्रशासन ने सोमवार को एचआरडी मंत्रालय के आला अधिकारियों से मुलाकात के दौरान मौखिक रूप से ये जानकारी दी। जेएनयू प्रशासन ने घटनाक्रम की एक रिपोर्ट भी मंत्रालय को सौंपी।

बता दें कि जेएनयू के प्रो-वीसी प्रो. चिंतामनी महापात्रा और रजिस्ट्रार डॉ. प्रमोद कुमार समेत चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल सोमवार को मानव संसाधन विकास मंत्रालय पहुंचा और उच्च शिक्षा सचिव अमित खरे को घटनाक्रम को लेकर रिपोर्ट सौंपी। रिपोर्ट में बीते कुछ समय से विश्वविद्यालय में चल रहे घटनाक्रमों की जानकारी दी गई।

इसमें बीते दिनों विश्वविद्यालय के सर्वर रूम में की गई तोड़फोड़ का भी जिक्र है। रिपोर्ट में कहा गया है कि हमले की शुरुआत पेरियार छात्रावास से हुई। सूत्रों के मुताबिक, जेएनयू प्रशासन ने मौखिक रूप से बताया कि पहले पेरियार छात्रावास पर नकाबपोश छात्रों ने हमला किया। इसके जवाब में पेरियार छात्रावास के छात्रों ने साबरमति छात्रावास पर नकाब पहनकर हमला कर दिया। ये मालूम हो पेरियार छात्रावास में दक्षिण पंथी छात्रों की संख्या अधिक है। वहीं, साबरमति छात्रावास में वामपंथ विचारधारा से जुड़े छात्रों की संख्या अधिक है। एचआरडी मंत्रालय के एक आला अधिकारी ने बताया कि मंत्रालय फिलहाल इस मामले में दखल नहीं देगा।

12 तक रजिस्ट्रेशन

जेएनयू प्रशासन ने विंटर सेमेस्टर की परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन की अंतिम तारीख 12 जनवरी तक बढ़ा दी है साथ ही  जेएनयू प्रशासन ने बताया कि छात्रों से रजिस्ट्रेशन के लिए कोई लेट फीस नहीं ली जाएगी।